Latest News

मंगलवार, 4 दिसंबर 2018

डूडा कार्यालय के कर्मचारियों पर प्रधानमंत्री आवास योजना में धांधली करने का आरोप, शिकायत दर्ज

अल्हागंज 04 दिसम्बर 2018.(अम्बुज शुक्ला/प्रिंस सक्सेना). कस्बे के मोहल्ला पीरगंज निवासी ओमदेव ने प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के नाम पर डूडा कार्यालय में व्याप्त भ्रष्टाचार का मामला उठाते हुऐ देश के प्रधानमंत्री से शिकायत की है। प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री सहित प्रशासन को भेजे गऐ शिकायत पत्र में ओमदेव ने बताया कि डूडा के माध्यम से प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) चलाई जा रही है। 


दो साल पहले शुरू हुई इस योजना के तहत हजारों लोगों ने आवास के लिए आवेदन जमा किए लेकिन अधिकतर पात्र लोगों को योजना का लाभ नहीं मिला है। पात्र व अपात्रों की सूची कार्यालय में नहीं है। जांचकर्ता कर्मचारी रुपये न मिलने पर सूची से पात्रों का नाम गायब कर देने की धमकी से कालोनी बालों से अच्छी खासी कमाई करते है। यहां तक मानक के रुप में एक भी कालोनी नहीं बनी फिर उन लोगो कि कालोनी पास होकर पैसा मिल जाता है। 

यहां तक जिन लोगो की खुद की ज़मीन का वैनामा तक नहीं कुछ लोग तो सरकारी जमीनों कब्ज़ा जमाए लोगों को भी डूडा ने साठगांठ कर पहली और दूसरी किस्त जारी कर दी जाती है। ओमदेव ने यहां भी बताया कि उन्होनें दो वर्ष पहले आॅनलाइन आवेदन किया था। फिर भी उनको अभी तक आवास नहीं मिला जिसकी शिकायत वह जनसुनवाई, डीएम कार्यालय, तहसील दिवस आदि पर कई बार कर चुके है। कई बार जाँच भी हुई और उनको पात्र बताकर खानापूरी कर दी गई। लेकिन आवास नहीं दिया गया कई बार तो वह हाफलाइन भी  आवेदन कर चुके हैं। जबकि नगर कई ऐसे लोगो को आवास दे दिया गया है जो अपात्र है।  ओमदेव का कहना है कि नगर के कुछ सभासद सहित कई दलाल डूडा कार्यालय के कर्मचारी मूलचंद्र,अनुज आदि से सम्पर्क रखते है। यहां लोग अपनी मर्जी से आवास आंवटन करवाते है और अच्छी खासी रक़म वसूलते है। जांच और आगे की कार्यवाही बढाने के लिए दलाल व सभासद तथा मूल चन्द्र पहले ही अपनी कमीशन तह कर लेते है। बाद मे कार्यालय जाकर वहाँ लिस्टो की अदला बदली कर दी जाती है। ओमदेव ने अल्हागंज सहित महानगर के समस्त आवासों की गुणभत्ता, मानक, वैनामा, रशीद, पात्र अपात्र तथा आवास की रुप रेखा की जांच दूसरे विभाग से कराने की मांग करते हुऐ डूडा कार्यालय में तैनात तीनो कर्मचारियों  का तबादला दूसरे जिला में करने की मांग प्रधानमंत्री से की है।

दूसरी चेयरमैन राजेश वर्मा का कहना है कि धनउगाई की शिकायते कई लोगो ने मुझसे भी  की आवास योजना में नगर पंचायत को कोई भी लिस्ट उपलब्ध न होने के कारण पात्र परेशान है। नगर मे किन किन लोगो को आवास मिले यहां बताया नहीं जा सकता ओमदेव एक गरीब है इनको आवास नहीं मिला यहां एक प्रश्न चिन्ह जाँच होनी चाहिए। दूसरी तरफ़ डूडा कार्यालय में तैनात लिपिक संदीप ने बताया कि जांच की जा रही है। ओमदेव को आवास दिया जाऐगा जिन पात्र लोगो ने आवेदन किया है सभी को लाभ दिया जाऐगा।



Advertisement

Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision