Latest News

शुक्रवार, 23 मार्च 2018

अफसरों व शराब माफियाओं के गठजोड़ ने सरकार को लगाया लाखों का चूना

शाहजहांपुर 23 मार्च 2018 (अनिल मिश्रा). जिले के अफसर शराब माफिया से मिलकर एक वर्ष से बिना लाइसेंस के देशी शराब की बिक्री करवाकर लाखों के राजस्व को चूना लगा रहे हैं। शिकायतों के बाद भी अफसर शराब माफिया की करतूत पर पर्दा डाल रहे हैं। जिले में लम्बे समय से चल रहा शराब माफिया और अफसरों का गठजोड़ किसी से छिपा नहीं है। शराब माफिया अफसरों से मिलकर गांव गांव बिना लाइसेंस के देशी शराब की बिक्री खुलेआम करवा रहे हैं। 


मिर्जापुर ब्लाक मे आबकारी विभाग ने वित्तीय वर्ष 2017-18 मे देशी शराब की सिर्फ दो दुकानें ग्राम पहाड़पुर और ढाईगांव मे खोलने के लाइसेंस निर्गत किये हैं। जबकि मिर्जापुर कस्बे मे अंग्रेजी शराब तथा बीयर की दुकान स्वीकृत है।लेकिन शराब माफिया और अफसरों का गठजोड़ पूरे वर्ष से मिर्जापुर मे अंग्रेजी शराब की दुकान पर खुलेआम देशी शराब की भी बिक्री करवा रहा है। शराब सिंडीकेट क्षेत्र के विकसित ग्राम जरीनपुर, पृथ्वीपुर, थरिया, बानगांव आदि दर्जनों गांवों मे कमीशन पर देशी शराब की बिक्री करवा रहा है। यही नहीं आबकारी विभाग ने कलान थाना क्षेत्र के एक ग्राम नौगबां मुबारिकपुर मे देशी शराब की दो दुकानों के लाइसेंस दिये हैं। इनमें ग्राम मुबारिकपुर नाम से आबंटित देशी शराब की दुकान मिर्जापुर थाना क्षेत्र के ग्राम थरिया में चल रही है। 

इस सम्बंध में शराब कम्पनी के एरिया मैनेजर धर्मेन्द्र सिंह चौहान का कहना है कि मिर्जापुर थाना क्षेत्र के थरिया मे चल रही देशी शराब की दुकान कलान थाना क्षेत्र के ग्राम मुबारिकपुर के लाइसेंस पर जरूर है, किंतु दुकान का लाइसेंस शुल्क नियमानुसार जमा हो रहा है। इस मामले मे जिला आबकारी अधिकारी जितेन्द्र कुमार सिंह का कहना है कि एक गांव मे दो दुकानें हो सकती हैं। कलान थाना क्षेत्र के ग्राम नौगबां मुबारिकपुर की दुकान यदि मिर्जापुर थाना क्षेत्र के ग्राम थरिया मे चल रही है तो गलत है। इसकी जांच कर विधिक कार्यवाही की जायेगी।

Special News

Health News

Advertisement

Important News


Created By :- KT Vision