Latest News

रविवार, 29 जनवरी 2017

शाहजहाँपुर - डीएम ने नौनिहालों को स्‍वयं पिलाई पोलियो ड्राप

शाहजहाँपुर 29 जनवरी 2017 (खुलासा TV ब्यूरो). पोलियो प्रतिरक्षीकरण दिवस के अवसर पर जिलाधिकारी कर्ण सिंह चौहान ने तारीन टिकली द्वितीय, बीबीजई हद्दफ के प्राथमिक विद्यालय में तथा उनकी पत्‍नी श्रीमती अलका सिंह ने जिला अस्पताल में बने बूथ का फीता काटकर उद्घाटन करते हुये 5 वर्ष तक के बच्चों को पोलियो रोग से बचाव की दवा पिलाते हुये आज कार्यक्रम का शुभारम्भ किया।
बीबीजई हद्दफ में बच्चों को पोलियो की दवा पिलाते हुये जिलाधिकारी चौहान ने कहा कि हर बच्चा स्वस्थ्य रहे यही हम सब की कामना है। किन्तु यह जरूरी है कि बच्चों को 5 वर्ष तक जिस-जिस रोग का खतरा रहता है, उसके बचाव के लिये उसे सम्बन्धित दवा अवश्य पिलाई जाये। उन्होंने कहा कि इस राष्ट्रीय कार्यक्रम में सभी को सहभागिता निभानी चाहिये। बच्चें हमारे देश के कर्णधार है। उनका भविष्य संवारना हम सबका नैतिक कर्तव्य है। स्वस्थ्य बच्चों से हमारा समाज भी स्वस्थ्य बनेगा और यही बच्चे हमारे कल के भविष्य है।

जिलाधिकारी ने जनपद वासियों से पोलियो मुक्त होने का आवाहन किया और कहा कि गत 6 वर्षो से हमारे जिले में पोलियो का कोई भी मामला नही पाया गया। इससे यह स्पष्ट है कि जिले में पोलियो का वायरस नहीं है किन्तु पोलियो की अन्तिम जंग में समस्त गणमान्य नागरिको, स्वंयसेवियों, विभागीय अधिकारियों एवं पत्रकार बन्धु से अपील की है कि वे इस रोग को जड़ से मिटाने में अपना सहयोग देते रहे। उन्होंने बताया कि जनपद में 0-5 वर्ष तक के कुल बच्चों का लक्ष्य 517189 है। 982 टीमों को घर-घर भ्रमण करने के कार्य में लगाया गया है। जनपद में 1961 बूथ लगाये जायेगें। जनपद में 45 मोबाईल टीमों को भी लगाया गया है। 329 पर्यवेक्षक बूथों की निगरानी हेतु लगाये गये है। जनपद 62 सेक्टर चिकित्साधिकारी की भी ड्यूटी लगाई गई है। 

मुख्य चिकित्साधिकारी डा. कमल कुमार ने कहा कि पोलियो के वायरस से भारत वर्ष मुक्त हो गया है लेकिन विश्वव्यापी व पड़ोसी देशों में वाॅयरस द्वारा पुनः संक्रमण होने की सम्भावना बनी रहती है। इसलिये यह अभियान अभी जारी है। जिला चिकित्सालय में बने पोलियो बूथ पर जिलाधिकारी की पत्नी श्रीमती अलका सिंह ने फीता काट कर बूथ का उद्घाटन कर बच्चों को पोलियो प्रतिरक्षीकरण की दवा पिलाते हुये शुभारम्भ किया। उक्त अवसर पर उन्होंने कहा कि यह कल्याणकारी कार्यक्रम है। मैं जहां भी रही हूँ ऐसे कल्याणकारी कार्यक्रमों में जाकर बच्चों को पोलियो जैसी खतरनाक बीमारी से बचाव के लिये दवा पिलाने अवश्य जाती हूँ। बच्चे सबके प्यारे होते हैं। उनका स्वस्थ्य रहना हमारे समाज के लिये जरूरी है। नौनिहालों का जीवन निरोग, स्वस्थ्य और पुष्ट रहे यही इस कल्याणकारी कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य है। 

उक्त अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डा. कमल कुमार एवं मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. केशव स्वामी ने पोलियो प्रतिरक्षीकरण दिवस कार्यक्रम में पहली बार किसी जिलाधिकारी की पत्नी द्वारा पोलियो बूथ पर पहुंचकर नन्हें मुन्ने बच्चों को दवा पिलाने एवं कार्यक्रम को प्रोत्साहित करने पर आभार व्यक्त किया। उक्त अवसर पर डा. लक्ष्मण, यूनीसेफ के डा. कुमार गुंजन, हुदा जेहरा, जिला कार्यक्रम अधिकारी सुश्री विजय श्री आदि उपस्थित रहे।

Special News

Health News

Important News

International


Created By :- KT Vision