Latest News

गुरुवार, 15 फ़रवरी 2018

दलालों व रेलवे प्रशासन की मिलीभगत से हो रहा है पार्सल में खेल

कानपुर 15 फरवरी 2018 (दिग्विजय सिंह). संजय प्रजापति, पप्पू मीठा, विनोद, नरेश, अशोक, बॉबी, अंकल, मुनक्‍का, राजू काना, सईद बग्‍ग्‍ड़, बाबू और न जाने कितने ही दलाल पिछले कई दशकों से रेलवे अधिकारियों के साथ सांठगांठ कर सरकार को हजारों करोड़ का चूना लगा रहे हैं। सूत्रों के अनुसार अब इस कड़ी में वाणिज्य कर विभाग व जीएसटी के अधिकारी भी जुड़ चुके हैं। 


वाणिज्य कर विभाग व जीएसटी के अधिकारि‍यों के सहयोग से यहां दलाल बदस्तूर पार्सल में सक्रिय हैं और वाणिज्य कर विभाग व जी एस टी विभाग को यहां कुछ भी गलत दिखना बंद हो गया है। या यूं कहें की रेलवे अधिकारियों को भी गांधी जी के बंदरों की तरह न तो बुरा दिखता है, न ही बुरा सुनाई देता है और न ही वो कुछ बोल पा रहे हैं। सरकार चाहे कोई भी हो, अधिकारी वही हैं और दलाल भ्‍ाी वही हैं।

जब तक प्रशासन पार्सल घर में बाहर की टीम से लगातार जांच नहीं करायेगा, पार्सल में कुछ भी सुधरने वाला नहीं है। यहां माल चाहे होजरी का हो, पान मसाले का हो या फिर कुछ और यहां न तो जांच होती है और न ही उनके कागज चेक किये जाते हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मसाले के माल का जो बिल आता है वो एक ही बिल कई बार दिखा कर माल अंदर बाहर किया जाता है। अब ऐसे में रेलवे के कुछ अधिकारी तो मोटी रकम कमा ही रहे हैं साथ ही पार्सल के दलाल भी करोड़पति बनते जा रहे हैं, और चूना सरकार को लग रहा है।

Special News

Health News

Advertisement

Important News


Created By :- KT Vision