Latest News

शनिवार, 3 फ़रवरी 2018

युवा कांग्रेस ने लगाया मोदी पकौड़ा स्टाॅल, विरोध को मिला व्यापक जनसमर्थन

रायपुर 03 फरवरी 2018 (जावेद अख्तर). पीएम मोदी के बयान की खिल्ली उड़ाते हुए राजधानी रायपुर के युवक कांग्रेसियों ने मोदी पकोड़ा स्टॉल लगाया। युवक कांग्रेसियों ने स्टॉल में पकोड़ा तला भी और लोगों को खिलाया भी, इस दौरान जमकर नारेबाजी भी की। गौरतलब है कि देश के प्रधानमंत्री मोदी ने हाल ही में कहा था कि 'क्या पकौड़ा बेचकर 200 रूपए प्रतिदिन कमाने वाले किसी व्यक्ति को बेरोजगार माना जा सकता है'? हालांकि उनके इस बयान की चौतरफा निंदा हो रही है।



विपक्ष के अलावा सोशल मीडिया में भी पीएम युवाओं के निशाने पर हैं। ज्ञात हो कि वर्ष 2014 के अनुसार, छत्तीसगढ़ की आबादी 2 करोड़ 65 लाख के आस-पास है वहीं पंजीकृत बेरोजगारों की संख्या 20 लाख से भी ऊपर, इसके अलावा बड़ी संख्या में ऐसे लोग भी हैं जिन्होंने रोजगार कार्यालयों में पंजीयन ही नहीं कराया है। छग के शिक्षित बेरोजगार युवकों ने पीएम मोदी के बयान पर नाराजगी जाहिर की है। 

कांग्रेस के विरोध को मिला जनसमर्थन - 
इसी बयान के विरोध में छग के सभी जिला मुख्यालयों में युवा कांग्रेस ने शिक्षित बेरोजगार नवयुवकों को लेकर बकायदा पकौड़े के स्टाल लगाकर बेरोजगार युवाओं को बैनर एवं तख्ती दी गई जिसमें मोदी पकौड़ा योजना लिखा गया। जिस भी व्यक्ति की नज़र पड़ी वो हंसने से खुद को रोक नहीं पाया और कांग्रेस द्वारा किए गए इस विरोध को काफी अधिक लोकप्रियता मिली साथ ही जनसमर्थन भी। आमजनों के मिल रहे व्यापक समर्थन से कांग्रेसी गदगद हो गये और कांग्रेस के नेताओं ने राहगीरों को पकौड़े भी खिलाए। कांग्रेसी नेताओं ने नारेबाजी लगाई कि 'नोटबंदी से आमजनों को निचोड़ा, जीएसटी से व्यापारियों को निचोड़ा, अब चाय पकौड़े वालों को निचोड़ने की बारी है। क्योंकि पीएम मोदी की निगाह में पकौड़े बेचने वाले गरीब नहीं है। 

सोशल मीडिया पर ट्रोल हो रहे पीएम मोदी - 
सोशल मीडिया पर तो बकायदा फार्म तक बनाकर पोस्ट किए गए जिसे बड़ी संख्या में लाइक एवं शेयर किया जा रहा है। सोशल मीडिया वाट्सएप पर लखनऊ के आनंद राव ने चाय पकौड़े का फार्म एवं भरे जाने वाली जानकारियों को सिलसिलेवार लिख कर पोस्ट किया। लगभग तीन लाख से अधिक लाइक और बाईस हजार शेयरिंग की वजह से सबसे हॉट टॉपिक बन गए, उनके फार्म फार्मेट एवं फार्मूले को यूट्यूब एवं इंस्टाग्राम में भी अपलोड किया गया है साथ ही दिल्ली के भाजपा समर्थकों एवं पार्टी नेताओं के ग्रुप में भी डाल दिया गया, जिसके चलते यह पोस्ट वायरल होकर सबसे ज्यादा चर्चा का विषय बनी हुई है। सोशल मीडिया के कई अन्य एप्लीकेशन पर भी मोदी के बयान को लेकर कार्टून तथा पोस्ट किए गए जिसमें से तो कई विवादास्पद हैं तो वहीं अधिकांश शिक्षित बेरोजगारों ने भी मोदी के बयान पर जमकर अपनी अपनी भड़ास निकाली है। कुल मिलाकर मोदी जी अपने बयान के कारण खूब छीछालेदर करवा रहे और बेचारे पार्टी समर्थक एवं कार्यकर्ता किसी को भी पलटकर जवाब देने की स्थिति में नहीं है इसलिए वे खामोशी के साथ अपनी खिसियाहट को दबाए बैठें हैं। 

Special News

Health News

Advertisement


Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision