Latest News

शनिवार, 9 दिसंबर 2017

अल्हागंज में सरकारी धान क्रय केन्द्र न खुलने से किसान परेशान

अल्हागंज 09 दिसम्बर 2017 (अमित वाजपेयी). नगर में सरकारी धान क्रय केंद्र नहीं खुलने से किसान परेशान हैं। क्रय केंद्र न होने से किसानों को अपनी मेहनत की कमाई बिचौलियों के हाथों बेचने को मजबूर हैं। मजबूरीवश सरकारी रेट की अपेक्षा कम कीमत में उन्हें अपना गल्ला बेचना पड़ रहा है। इलाके के किसानों को सरकारी लाभ नहीं मिल पा रहा है।


प्राप्त जानकारी के अनुसार नगर में इस बार धान क्रय केंद्र न खुलने से किसानों को धान बेचने के लिए बिचौलियों के हाथों लुटना पड़ रहा है। बता दें कि कस्बे में पिछली बार गेहूं का तो केन्द्र खुला था। जिससे किसानो को अपनी फसल का सही पैसा मिला था। और उनके चेहरे खिले हुए थे। लेकिन इस बार धान सरकारी क्रय केंद्र नहीं खुलने से किसानों को धान बेचने के लिए बिचौलियों का सहारा लेना पड़ रहा है। इससे नगर व  क्षेत्र के किसानों में आक्रोश है। वहीं किसानों की समस्या को लेकर अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे हैं।

किसान गुलाब चन्द्र त्रिपाठी, मूल चन्द्र त्रिपाठी, विनय प्रकाश, फूल चन्द्र त्रिपाठी, कौशल किशोर,सत्यप्रकाश, राकेश मिश्रा, ओमप्रकाश, हरनाम सिंह, रामवीर सिंह, हल सिंह आदि ने धान क्रय केंद्र न खोले जाने पर चिंता जताते हुए खुलासा TV की टीम को बताया कि हम लोग मेहनत करके फसल को तैयार करते हैं। हमारे क्षेत्र में जंगली गाय बहुत ज्यादा है। रात दिन फसल की रखवाली करनी पडती है। इसके बाद क्रय केन्द्र न होने से लोकल मंडी में कम कीमत में बिचौलियों के हाथ बेचनी पडती है। जिसका सही दाम भी नहीं मिल पाता है। वहीं किसान गुलाब चन्द्र त्रिपाठी बताते है। कि नगर की मंडी मे सभी क्षेत्र के लोग फसल को बेचने आते है। पर नगर मे कोई क्रय केन्द्र नहीं लगाया गया नगर मे क्रय केन्द्र लगा होता तो किसानो को जानकारी होती और उनको बिचौलियों के हाथ फसल न बेचनी पडती।

वहीं इस बावत एसडीएम जलालाबाद डा०वैभव शर्मा  से बात करने पर उन्होनें  सूची देखकर बताते हुए कहाँ कि गांव धर्मपुर पिढरियां और सपाभापुर मे केन्द्र बना हुआ है।  वहाँ पर किसान धान बैच सकते है। वहीं भाजपा नेता अनिल गुप्ता ने बताया कि सरकारी धान क्रय खोलने के लिए उन्होनें जिलाधिकारी को प्रार्थना पत्र भी दिया था। लेकिन फिर भी नगर मे क्रय केन्द्र नहीं खोला गया। इसके चलते किसान भाईयों को सरकारी लाभ नहीं मिल पा रहा है।

आपको बता दें कि अल्हागंज नगर  जनपद फरुँखाबाद हरदोई की सीमा है। इसी के चलते क्षेत्र के गांव हथौड़ा, माननगला, देवीपुर, गुरुदासपुर, हुल्लापुर, चम्मतपुर, भरखा, इमलिया, चिलौआ, लालपुर, बहरामपुर, द्वारनगला, घसा, घनूनगला सहित तमाम गावों का धान गेहूं आदि नगर की लोकल गल्ला मंडी में बिचौलियों के हाथों बेचना पढ रहा है। सरकारी रेट की अपेक्षा कम कीमत में उन्हें अपना गल्ला बेचना पड़ रहा है। इसी के चलते किसानों को सरकारी लाभ नहीं मिल पा रहा है।

Special News

Health News

Advertisement


Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision