Latest News

बुधवार, 2 अगस्त 2017

अंत्योदय मेला प्रदर्शनी की तिथियों में हुआ फेरबदल

शाहजहाँपुर 02 अगस्‍त 2017. जिलाधिकारी नरेन्द्र कुमार सिंह ने बताया है कि शासन के निर्देशानुसार पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी वर्ष मनाये जाने के क्रम में विकास खण्डवार तिथियां निर्धारित की गयी थी। विकास खण्ड परिसर में जलभराव होने के कारण अंत्योदय मेला प्रदर्शनी की तिथियों में फेरबदल किया गया है।


जिसमें दिनांक 10, 11, व 12 जुलाई, 2017 को विकास खण्ड मिर्जापुर तथा दिनांक 17, 18, एवं 19 जुलाई 2017 को कलान में आयोजित होने वाले अन्त्योदय मेला एवं प्रदर्शनी का आयोजन विकास खण्ड परिसर में जलभराव होने के कारण स्थगित कर दिया गया था। इसके अतिरिक्त 13, 14, तथा 15 अगस्त 2017 को जिला स्तर पर अन्त्योदय मेला एवं प्रदर्शनी आयोजित कराये जाने हेतु तिथियां निर्धारित की गयी थीं। किन्तु उक्त तिथियों में 15 अगस्त एवं जन्मष्टमी के पर्व पर व्यस्तता होने के कारण उक्त तिथियों में मेला एवं प्रदर्शनी का आयोजन हो पाना सम्भव नहीं है। इस कारण उक्त तीनों स्थानों पर अन्त्योदय मेला एवं प्रदर्शनी का आयोजन हेतु निम्न तिथियां निर्धारित की गयी हैं। अवशेष विकास खण्डों में पूर्व में निर्धारित तिथियों में ही अन्त्योदय मेला एवं प्रदर्शनी का आयोजन किया जायेगा। दिनांक 25, 26, एवं 27 अगस्त 2017 को जनपद स्तर पर एवं दिनांक 11, 12, एवं 13 सितम्बर 2017 को विकास खण्ड मिर्जापुर, तथा दिनांक 14, 15, एवं 16 सितम्बर 2017 को विकास खण्ड कलांन में अन्त्योदय मेला एवं प्रदर्शनी का आयोजन किया जायेगा। 

जिलाधिकारी ने कहा कि समस्त खण्ड विकास अधिकारी, उपरोक्तानुसार अन्त्योदय मेला एवं प्रदर्शनी का आयोजन पूर्व की भांति करायें, प्रभारी के रूप में व्यवस्था करना सुनिश्चित कर लें। शासन की मंशा है कि मेलांं का उद्देश्य आम जन के साथ समाज के दलित, निर्धन, शोषित और उपेक्षित वर्ग को सरकार की जन कल्याणकारी व जनहित कार्य योजनाओं से मेले में ही लाभान्वित कराया जा सके। श्री सिंह ने खण्ड विकास अधिकारियों से कहा कि आप लोग ग्राम प्रधान व सम्भ्रान्त नागरिकां से मिलकर मेले का वृहद प्रचार-प्रसार करायें ताकि मेले में सभी जरूरत मन्द ग्रामीण भाई बहनों  व किसानों को मेले का लाभ मिल सके। समस्त जिला स्तरीय अधिकारीगण पूर्वानुसार अन्त्योदय मेला एवं प्रदर्शनी में अपनी विभागीय योजनाओं, कार्यक्रमां एवं नीतियों को आम जनता में प्रचार-प्रसार हेतु प्रचार साहित्य व पम्पलेट आदि के माध्यम से प्रचार-प्रसार करना सुनिश्चित करें। लीड बैंक अधिकारी को भी निर्देश दिये कि बैंक से सम्बन्धित जानकारियां मेले में दी जायें।

Special News

Health News

Advertisement

Advertisement

Advertisement


Created By :- KT Vision