Latest News

सोमवार, 15 मई 2017

कानपुर के निवासी भुगत रहे हैं काले पानी की सजा

कानपुर, 15 मई 2017. वैसे तो काले पानी की सजा अंग्रेजी शासन के साथ ही समाप्‍त हो गयी थी पर कानपुर के निवासी इन दिनों बिना अपील, बिना दलील के काले पानी की सजा भुगत रहे हैं। पिछले कई महीनों से लगातार कानपुर के कई क्षेत्रों में गंदा सीवरयुक्त काला पानी नलों से सप्‍लाई हो रहा है। कई बार समाचार पत्रों में खबर छपने, जलकल विभाग में दर्जनों शिकायतें करने के बावजूद कानपुर के निवासियों को काले पानी से राहत नहीं मिल पा रही है।

कानपुर के ग्वालटोली एवं गीतानगर इलाके के लोगों को गंदे पानी की समस्या से जूझते हुए काफी समय बीत गया है। लोगों का कहना है कि सरकारी नलों में आने वाला पानी काला एवं दुर्गंधयुक्त होने के कारण किसी काम का नहीं है। यहां तक पानी भरो तो बर्तन तक दुर्गन्धित हो जाते हैं। कई शिकायतों के बाद भी समस्या का निस्तारण नहीं हो सका है। लो प्रेशर के कारण नलों में पानी नहीं आता और आता भी है तो गंदा। बताते चलें कि क्षेत्र में बहुत पुरानी पेयजल लाइन पडी है, जो जगह-जगह से क्षति ग्रस्त हो चुकी है। जल संस्थान द्वारा कभी इस लाइन को सुधारने की नौबत ही नहीं आयी और न ही विभागीय अधिकारियों ने इस ओर ध्यान दिया। जगह जगह से लाइन टूटी है। पानी नालियों में बह रहा है। ऐरिया के अधिकांश हैण्डपंप खराब पडे हैं। जिनके यहां बोरिंग है वह पूरे मोहल्‍ले के लोगों का सहारा बने हुए हैं। फिलहाल गर्मी के चलते स्थित और बदतर होती जा रही है, और का लोगों का सब्र समाप्त होता जा रहा है। 
 
 

Special News

Health News

Religion News

Business News

Advertisement


Created By :- KT Vision