Latest News

गुरुवार, 27 अक्तूबर 2016

आशा वर्कर ने गर्भवती महिला के पति को पिटवाया

तिलहर 27 अक्‍टूबर 2016 (ब्‍यूरो रिपोर्ट). नगर के सरकारी अस्पताल में जननी सुरक्षा योजना के नाम पर गर्भवती महिलाओं और उनके तीमारदारों का खुलेआम उत्पीड़न किया जा रहा है। मगंलवार देर शाम एक गर्भवती महिला के पति को आशा वर्कर ने अपने पति और बेटे से पिटवाया। इस दौरान अस्पताल में अफरा-तफरी मच गई।
जानकारी के अनुसार गांव खिरिया सकटू की एक गर्भवती महिला को गांव की आशा वर्कर मंजूषा यादव तिलहर अस्पताल लेकर आई थी। प्रसव के बाद महिला के पति से स्टॉफ ने रुपये मांगे। महिला के पति के तिलहर निवासी मौसेरे भाई को जब यह पता चला तो उन्होंने इसकी ड्यूटी पर मौजूद डॉक्टर से शिकाययत कर दी। इससे स्टॉफ नर्सें और आशा वर्कर मंजूषा नाराज हो गईं। आशा ने फोन करके अपने पति और बेटे को अस्पताल बुला लिया। इस दौरान डॉक्टर अपने आवास पर थे। आशा के पति और बेटे ने प्रसूता के पति की पिटाई कर दी। हंगामा होने से अस्पताल में अफरा-तफरी मच गई।

महिला और उसके पति से आशा वर्कर ने अगर अपने पति और बेटे को बुलाकर अभद्रता कराई है तो इसकी जांच कराई जाएगी। पीड़ित से शिकायत मिलने पर कार्रवाई भी की जाएगी। - डॉ. सूर्य कुमार गंगवार, चिकित्साधिकारी तिलहर

Special News

Health News

Advertisement


Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision