Latest News

बुधवार, 1 जून 2016

ग्रामीणों ने पोलियो की दवा पिलाने आई आशाओं को कमरे में कैद किया


सम्भल 1 जून 2016 (सुनील कुमार). बनियाठेर थाना क्षेत्र के अमियापुर पचाक में पोलियो अभियान का आज तीसरे दिन भी बहिष्कार किया गया। विदित हो कि गांव के लोग तीन दिनों से आन्दोलन कर रहे हैं।गांव वालों ने आज पोलियो की दवा पिलाने गई आशाओं व आगंनबाडी को कमरे में कैद कर लिया।

प्राप्‍त जानकारी के अनुसार गांव वालों का कहना है कि बिजली विभाग गांव रामरायपुर, पचाक, कुंवरपुर, बरौली, उमरा गोपालपुर को नार्थ वेस्ट फीडर से हटाकर जनेटा से जोड़ा जा रहा है । वह उसे नहीं जोडने देंगे।  मौके पर पहुंचे बनियाठेर एसओ और सीएमओ ने ग्रामीणों को समझाया। सीएमओ ने डीएम को भी घटनास्थल की पूरी जानकारी दी व ग्रामीणों की समस्या से अवगत कराया। सूत्र बताते हैं कि मंगलवार की सुबह आठ बजे आशा हरकली, नीति सिंह और आंगनबाड़ी रीना रानी बच्चों को पोलियो की दवा पिलाने पहुंची। इस पर ग्रामीणों ने उन्हें बंधक बना लिया। उन्‍हें गांव में ही एक मकान के अंदर कैद कर दिया गया। इस दौरान ग्रामीणों ने आशाओं के खानपान का विशेष ध्यान रखा। वहीं, सूचना पर शाम करीब पांच बजे बनियाठेर पुलिस और सीएमओ डा. उमराव सिंह मौके पर पहुंच गए। उन्होंने ग्रामीणों को समझाया, लेकिन वे नहीं माने। काफी समझाने के बाद करीब शाम पांच बजे ग्रामीण मान गये, तब जाकर करीब नौ घंटे बाद आशाओं को मुक्त किया गया।

Special News

Health News

Advertisement


Created By :- KT Vision