Latest News

शनिवार, 5 मार्च 2016

Kanpur - दबंगों ने किया पत्रकार पर जानलेवा हमला

कानपुर 05 मार्च 2016 (कानपुर ब्‍यूरो). मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव का उत्‍तम प्रदेश दिनों दिन लोकतंत्र के चौथे स्‍तम्‍भ के लिये खतरनाक होता जा रहा है। कहीं पत्रकारों पर हमले हो रहे हैं और कहीं जिलाधिकारी अखबारों पर मुकदमे लिखा रहे हैं। ताजा मामला कानपुर के थाना फीलखाना क्षेत्र का है। यहां जुए और सट्टा खिलाने वाले अपराधियों ने खबर छापने की खुन्‍नस में पत्रकार पर हमला कर दिया।
प्राप्‍त जानकारी के अनुसार बिरहाना रोड पर नवरंग सिनेमा के सामने शहर दायरा न्‍यूज के पत्रकार आशीष शर्मा पर संदीप जायसवाल पुत्र किशन जायसवाल और उसके दो दर्जन साथियों ने चाकू और ब्‍लेड से हमला कर दिया। आशीष किसी काम से जा रहे थे तभी बियर बार के सामने आरोपी किशन ने अपने साथियों के साथ पत्रकार को घेर लिया और गालियां बकते हुये पीटने लगा। सूत्रों के अनुसार शराब के नशे में आरोपीगण ने सट्टे की खबर चलाने की खुन्नस में रिपोर्टर आशीष शर्मा पर हमला किया था। पत्रकार के चिल्‍लाने की आवाज सुन कर जब स्‍थानीय लोगों ने दबंगों को ललकारा तो वे पत्रकार को जान से मारने की धमकी देते हुये भाग गये। घटना की सूचना पत्रकार ने फोन पर अपने सम्‍पादक और आल इंडिया रिपोर्टर्स एसोसिएशन (आईरा) के मण्‍डल संरक्षक अभिषेक त्रिपाठी को दी। जानकारी पा कर श्री त्रिपाठी अपने साथियों के साथ मौके पर गये और घायल पत्रकार को केपीएम अस्‍पताल में भर्ती कराया तथा पुलिस को सूचना दी।
 
घटना की सूचना पा कर मौके पर पहुंचे आईरा के शीलू शुक्‍ला, आशीष त्रिपाठी, मोहम्‍मद नदीम, निजामुद्दीन, दिग्विजय सिंह, पप्‍पू यादव, शिवमंगल शुक्‍ला, सौरभ गुप्‍ता और अंकित गुप्‍ता ने कहा कि पत्रकारों पर ऐसे हमले अब बर्दाश्त नहीं किये जायेंगे। आल इंडिया रिपोर्टर्स एसोसिएशन (आईरा) पत्रकारों के खिलाफ हिंसा की प्रबल निंदा करती है।हम मांग करते हैं की सरकार तत्काल पत्रकार प्रोटेक्शन एक्ट लागू करे और पत्रकारों पर हमले को गैर जमानती अपराध माना जाये। अन्‍यथा आईरा से जुडे पत्रकार आंदोलन को बाध्‍य होंगे।

Advertisement

Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision