Latest News

सोमवार, 7 सितंबर 2015

कानपुर - अस्तपतालों पर लगे टावर के रेडियेशन से मरीजों को खतरा, प्रशासन बेखबर

कानपुर 7 सितम्‍बर 2015. (मो0 नदीम) आज के आधुनिक युग में इन्सानों द्वारा बनाई गई टेक्नोलॉजी जहां वरदान साबित हो रही है वहीं कुछ मामलों में टेक्नोलॉजी अभिशाप बनकर हमें नुकसान भी पहुँचा रही है। बात हो रही है शहर के अंदर अस्‍पतालों में लगे मोबाइल टावरों की, जिसके रेडियेशन की चपेट में आकर मरीज कई तरह की घातक बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं। 

ऐसा ही एक मामला प्रकाश में आया है कानपुर के बारा देवी चौराहे में जहां संतोष हास्पिटल की छत पर आप नजर डालें तो आपको एक मोबाइल टावर मुंह चिढ़ाता नजर आयेगा जिसके रेडियेशन से मरीजों की छोटी बीमारी आगे चलकर बड़ी बीमारी बन जाने की प्रबल सम्‍भावना नजर आती है। इस संदर्भ में हमने संतोष अस्पताल के डा0 से पूछताछ करनी चाही तो उन्होंने कहा हमने टावर नगर निगम से पास करवाया है और मैं इसका हर साल नगर निगम को टैक्स देता हूं पता नही क्यूँ आप मीडिया वालों को हमारा ही अस्तपताल दिखाई देता है। अब डा0 साहब को कौन समझाये जहां गलत होगा वहां मीडिया होगी। फिर हमने मरीजों की सेहत से हो रहे इस खिलवाड़ के बारे में अस्‍पताल के कर्मचारियों से पूछा तो सबने चुप्पी साध ली। इस बारे में जब हमने कानपुर के सी0एम0ओ0 से पूछताछ की तो उनका कहना है अस्पताल के आस पास भी टावर नहीं होना चाहिये इससे होने वाले प्रदूषण से मरीजों की सेहत को खतरा है।अस्‍पताल के खिलाफ कार्यवाही के बारे में सी0एम0ओ0 का कहना है कि प्रदूषण कंट्रोल का अधिकार हमारे पास नहीं है इसलिए हम कुछ नहीं कर सकते हैं।अब इस प्रशासनिक चूक का खामियाजा मरीज कब तक  भुगतेंगे ये तो समय ही बतायेगा।

Special News

Health News

Advertisement


Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision