Latest News

शनिवार, 16 मई 2015

दंगों से अब कोई नहीं डरता है जी, बयान से क्या डरेगा - अमित शाह

नई दिल्ली 15 मई 2015. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह मानते हैं कि दंगों से अब कोई नहीं डरता है। अमित शाह के मुताबिक, 'दंगों से कोई नहीं डरता है जी, बयान से क्या डरेगा।' मोदी सरकार के एक साल, इसकी कामयाबियों और नाकामियों पर एक राष्ट्रीय पत्रिका से बात करते हुए अमित शाह ने यह बयान दिया है। अमित शाह पार्टी के गिरिराज सिंह, वीके सिंह, साक्षी महाराज और साध्वी निरंजन ज्योति जैसे नेताओं की मुंहफट बयानबाजी पर सफाई दे रहे थे, जिनके बयानों से पीएम मोदी और सरकार दोनों की जमकर आलोचना की गई।
अमित शाह ने हालांकि कहा कि सभी नेताओं को खुद पर काबू रखना चाहिए। जब उनसे पूछा गया कि बीजेपी अक्सर इन बयानों पर सफाई देने से कतराती क्यों है तो शाह ने कहा, 'न तो ये बयान बीजेपी के होते हैं, न ही हम इन्हें बढ़ावा देते हैं। इन बयानों को निजी बयानों के तौर पर ही लिया जाना चाहिए। लव जिहाद बीजेपी के किसी भी डॉक्युमेंट में नहीं लिखा गया था, यह मीडिया की ही देन था। हालांकि, ऐसे बयान नहीं दिए जाने चाहिए।' अमित शाह ने यह भी कहा कि ऐसे बयानों से बीजेपी अपने विकास के अजेंडे से नहीं भटकी है। अगर कोई किसी तरह का बयान देता है, इससे हमारे काम की रफ्तार पर असर नहीं पड़ता। इससे न तो गांवों तक सड़क पहुंचाने में देरी होगी, न ही स्कूलों का निर्माण बंद हो जाएगा। इन बयानों का विकास से कोई लेना-देना नहीं है। ये सिर्फ मीडिया की हेडलाइंस के लिए सही हैं। जब शाह से पूछा गया कि इन बयानों से लोगों के मन में डर नहीं पैदा होता, तो उन्होंने कहा, 'मैं ऐसा नहीं मानता। दंगों से कोई नहीं डरता है जी, बयान से क्या डरेगा। देशभर में दंगे हुए हैं, लेकिन उनसे समाज में दरार नहीं पड़ी है। वे सालों तक साथ रहते हैं। दंगे नहीं होने चाहिए, पर समाज इनका आदी हो चुका है। इसलिए इनसे समाज के प्रभावित होने का कोई सवाल ही नहीं उठता, लेकिन लोगों को ऐसे बयान नहीं देने चाहिए।'

(IMNB)

Special News

Health News

Advertisement


Created By :- KT Vision