Latest News

मंगलवार, 10 मार्च 2015

बैन के बाद भी आगरा में दिखाई गई 'इंडियाज डॉटर'

आगरा। निर्भया कांड पर बनी डॉक्युमेंट्री 'इंडियाज़ डॉटर' को महिला दिवस के मौके पर आगरा में दिखाई गई । पिछले हफ्ते भारत सरकार ने इस फिल्म के प्रसारण पर रोक लगा दी थी। निर्भया की 16 दिसंबर 2012 में देश की राजधानी दिल्ली में गैंगरेप के बाद हत्या कर दी गई थी।
आगरा के धानुगांव में एक सामाजिक कार्यकर्ता केतन दीक्षित ने यह फिल्म दिखाई। केतन स्टॉप ऐसिड अभियान से जुड़े हुए हैं। भारत में सरकार के साथ कोर्ट ने भी इस फिल्म के प्रसारण पर रोक लगा रखी है, लेकिन बीबीसी ने बुधवार को ब्रिटेन में इसका प्रसारण कर दिया था। उसी दिन यू-ट्यूब ने भी इस डॉक्युमेंट्री को बैन कर दिया था। दीक्षित ने कहा कि इस डॉक्युमेंट्री को 'बैन के खिलाफ विरोध के संकेत' के रूप में दिखाया गया। उन्होंने कहा कि वह अपने खिलाफ होने वाली किसी भी कार्यवाही का सामना करने को तैयार हैं। भारत में इस डॉक्युमेंट्री को लेकर बहुत विवाद चल रहा है। इस फिल्म में निर्भया गैंगरेप और हत्या मामले में दोषी ठहराये जा चुके मुकेश का इंटरव्यू लिया गया है। इस इंटरव्यू में मुकेश ने इस गैंगरेप और हत्या के लिए 23 वर्षीय निर्भया को ही जिम्मेदार ठहराया गया है। विदित हो कि पीड़िता और उसके मित्र को बुरी तरह पीटकर सड़क किनारे फेंक दिया गया था। पांच दिन तक जिंदगी और मौत के बीच जूझने के बाद आखिर यह जंग हार गई थी। निर्भया के साथ इस वहशियाना हरकत को अंजाम देने वालों छह लोगों में एक नाबालिग भी शामिल था। दीक्षित ने आगरा से 40 किलोमीटर दूर स्थित इस गांव में एक बड़े प्रोजेक्टर पर यह फिल्म दिखाई। गांव के करीब 60-70 लोगों ने इस फिल्म को देखा। टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक वॉलनटियरों ने गांव वालों को अंग्रेजी में बनी इस डॉक्युमेंट्री को समझने में मदद की। गांव की रहने वाली मीरा परमार ने कहा, 'फिल्म देखने के बाद मुझे लगता है कि बलात्कारियों को फांसी पर लटका दिया जाना चाहिए।' 18 साल की दीक्षा फिल्म पर लगाए गए प्रतिबंध से सहमत नहीं हैं। दीक्षा कहती हैं. 'यह फिल्म हमारे समाज में मौजूद कई लोगों की दकियानूसी और रूढ़िवादी सोच को दिखाती है। हर महिला को यह फिल्म देखनी चाहिए। सरकार को फौरन इस फिल्म पर लगे प्रतिबंध को हटा लेना चाहिए।' स्थानीय प्रशासन को इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। अतिरिक्त जिला न्यायाधीश हरनाम सिंह ने रविवार को कहा इस डॉक्युमेंट्री का प्रसारण बैन है और अगर इसे दिखाया गया है जो जरूरी कार्रवाई की जाएगी।

(IMNB)

Special News

Health News

Advertisement


Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision