Latest News

शनिवार, 9 फ़रवरी 2019

10 से 28 फरवरी तक संचालित होगा संचारी रोग नियंत्रण अभियान

बहराइच 08 फरवरी 2019 (ब्यूरो). संचारी रोग नियंत्रण अभियान के सफल क्रियान्वयन के लिए जनपद स्तरीय अन्तर्विभागीय समन्वय समिति की बैठक की अध्यक्षता करती हुईं जिलाधिकारी माला श्रीवास्तव ने कहा कि संचारी रोगों का प्रभावी नियंत्रण मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सर्वोच्च प्राथमिकता है। शासन की शीर्ष प्राथमिकता के मद्देनज़र अभियान में शामिल सभी विभाग 10 से 28 फरवरी 2019 तक संचालित होने वाले प्रथम संचारी रोग नियंत्रण अभियान के सफल क्रियान्वयन के लिए प्रभावी कार्ययोजना तैयार कर लें। 



उन्होंने निर्देश दिया कि झोलाछाप चिकित्सकों के विरूद्ध मजिस्ट्रेटों के साथ सघन चेकिंग अभियान संचालित किया जाये, साथ ही आम जन में इस बात का व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार भी किया जाय कि संचारी रोग से पीड़ित होने पर कदापि छोलाझाप चिकित्सकों के चक्कर में न पड़ते हुए सरकारी चिकित्सालयों से सम्पर्क करें। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि संचारी रोगों के नियंत्रण के लिए सभी सम्बन्धित विभाग कार्ययोजना तैयार करने में किसी प्रकार की शिथिलता न बरतें। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिया कि संचारी रोगों के नियंत्रण/पर्यवेक्षण के लिए स्थापित कन्ट्रोल रूम के मोबाइल नम्बर 9369842855 का व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार किया जाय तथा कन्ट्रोल रूम पर किसी सक्षम अधिकारी की तैनाती भी की जाय ताकि संचारी रोगों के नियंत्रण के सम्बन्ध में आमजन से प्राप्त होने वाले सुझावों एवं शिकायतों के सम्बन्ध में तत्काल प्रभावी कार्यवाही भी की जा सके। उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि कन्ट्रोल रूम के माध्यम से सम्पूर्ण अभियान के प्रभावी संचालन की कार्यवाही के साथ-साथ फीड बैक प्राप्त करने का भी कार्य किया जाय। 


जिलाधिकारी ने नगर पालिका परिषद व नगर पंचायतों के अधिशासी अधिकारियों तथा जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देश दिया कि संचारी रोगों के प्रभावी नियंत्रण के लिए शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में साफ-सफाई के विशेष प्रबन्ध किये जायें साथ ही आमजन की जागरूकता के लिए जगह-जगह पर नारे एवं स्लोगन की राईटिंग भी करायी जाय। उन्होंने संचारी रोगों के नियंत्रण के लिए निराश्रित पशुओं विशेषरूप से सुअरों एवं कुत्तों के स्वच्छन्द विचरण पर भी प्रभावी अंकुश लगाये जाने की बात कही। जिलाधिकारी ने यह भी निर्देश दिया कि अभियान अवधि के दौरान लोगों को स्वच्छ भारत अभियान के प्रति भी जागरूक किया जाय ताकि लोग खुले में शौच करने से परहेज़ करें। अभियान के प्रति जनजागरूकता के लिए जिलाधिकारी ने आॅगनबाड़ी केन्द्रों, विद्यालयों एवं मेडिकल की दुकानों के माध्यम से जन-जागरूकता बैनर्स का प्रदर्शन कराये जाने तथा आॅगनबाड़ी केन्द्रों पर पुष्टाहार का वितरण कराये जाने का भी निर्देश दिया। जनपद में स्थित जल स्रोतों की समुचित साफ-सफाई के दृष्टिगत सभी सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिया गया कि हैण्डपम्पों के चबूतरों, पाईप लाइन पेयजल परियोजनाओं की लीकेज, तालाबों, पोखरों एवं कुओं इत्यादि को विसंक्रमित करने की कार्यवाही कराये जाने का निर्देश दिया। उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि अभियान की जनजागरूकता के लिए नेहरू युवा केन्द्र के माध्यम से नुक्कड़ नाटक इत्यादि भी कराये जायें। 

जिलाधिकारी ने सभी विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिया कि संचारी रोगों के नियन्त्रण के सम्बन्ध में की जाने वाली कार्यवाही का जिला सूचना कार्यालय के माध्यम से व्यापक प्रचार-प्रसार भी करायें। उल्लेखनीय है कि संचारी रोगों तथा दिमागी बुखार पर प्रभावी नियंत्रण तथा अनका त्वरित एवं सही उपचार सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में है। वर्ष 2018 में अन्तर्विभागीय सहयोग से संचालित किये गये तीन संचारी रोग नियंत्रण अभियानों के परिणाम स्वरूप दिमागी रोग से होने वाली मृत्यु की दर में जहाॅ भारी कमी आयी है वहीं वर्ष 2018 में दिमागी बुखार के मरीज़ों की कुल संख्या, इस बीमारी के कारण होने वाली मृत्यु की संख्या तथा मृत्यु दर में भी कमी के साथ ही साथ अन्य संचारी रोगों के प्रकोपों में आने वाली कमी को देखते हुए शासन ने प्रदेश के 75 जनपदों में 10 से 28 फरवरी 2019 तक प्रथम संचारी रोग नियंत्रण अभियान चलाये जाने का निर्णय लिया है। 

अभियान के दौरान वेक्टर नियंत्रण, साफ-सफाई, कचरा निस्तारण, जल भराव रोकने तथा शुद्ध पेयजल उपलब्धता, विद्यालयों में संवेदीकरण तथा जनसंवाद द्वारा जागरूकता उत्पन्न करने इत्यादि की गतिविधियों पर विशेष ज़ोर दिया जायेगा। बैठक का संचालन डीपीएम एनएचएम डा. आर.बी. यादव ने किया। इस अवसर पर नगर मजिस्ट्रेट प्रदीप कुमार यादव, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डा. बलवन्त सिंह सहित अभियान में सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण मौजूद रहे। 




Video News

Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision