Latest News

बुधवार, 21 नवंबर 2018

समस्त ग्राम पंचायतों के सार्वजनिक स्थलों पर रखी जाये डस्टबिन

बहराइच 21 नवम्बर 2018 (ब्यूरो). स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के अन्तर्गत गठित जनपद स्वच्छता समिति की कलेक्टेªट सभागार में आयोजित बैठक के दौरान जिलाधिकारी माला श्रीवास्तव ने डीपीआरओ को निर्देश दिया कि बेस लाइन सर्वे 2012 के अनुसार शतप्रतिशत शौचालयों का निर्माण सुनिश्चित करायें। खुले में शौच की प्रथा को पूर्णतः प्रतिबन्ध लगाया जाये। जिन परिवारों के पास किसी कारणवश शौचालय नही है ऐसे परिवारों को प्रेरित कर उनका शौचालय तत्काल निर्माण कराया जाये।


जिलाधिकारी ने निर्देश दिया ग्रामीण क्षेत्रों में सुरक्षित अपशिष्ट प्रबन्धन को बढ़ावा देने के लिए डस्टबिन, बायोगैस आदि अपनाने के लिए ऐसी गतिविधियों के माध्यम से लोगों को प्रोत्साहित किया जाय। साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में कूडा करकट एकत्र करने के लिए मोबाइल वाहन की व्यवस्था की जाय। इन वाहनों पर स्वच्छता से सम्बन्धित स्लोगन, हेल्पलाइन नम्बर आदि का डिसप्ले किया जाय। उन्होंने निर्देश दिया कि गांवों में अपशिष्ट प्रबन्धन को प्रभावी ढंग से लागू किया जाय तथा ग्रामों में एकत्र कूडों के निस्तारण हेतु पुख्ता प्रबन्ध किया। उन्हाेंने यह भी निर्देश दिया कि प्लास्टिक प्रतिबन्ध को प्रभावी ढंग से लागू कराया जाये। 

जिलाधिकारी ने यह भी निर्देश दिया कि ग्रामीण क्षेत्रों में जलभराव समस्या के समाधान के लिए नाली व सोकपिट बनवाया जाय। उन्हाेंने निर्देश दिया प्लास्टिक बैन को प्रभावी बनाते हुए हाट बाजारों से प्लास्टिक को हटाया जाये। साथ ही अभियान चलाकर नदियों की सफाई आदि करायी जाये तथा ग्रामीण क्षेत्रों के हाट बाजारों में विशेष अभियान चलाकर अतिक्रमण हटाकर समुचित साफ-सफाई कराया जाये। जिलाधिकारी ने कहा कि स्वच्छता एक निरन्तर प्रक्रिया है जिसमें सभी लोगाें का सहयोग परम आवश्यक है, इसके प्रति लोगोें में जनजागरूकता के लिए ऐसी प्रभावी आईईसी गतिविधियों को प्रभावी ढंग से संचालित की जाये। 

जिलाधिकारी ने निर्देश दिया समस्त ग्राम पंचायतों के सार्वजनिक स्थलों जैसे अस्पतालों, स्कूल, आंगनबाड़ी केन्द्रों, पंचायत भवन आदि पर स्वच्छता जागरूकता सम्बन्धी स्लोगनों की वाल राइटिंग करायी जाये जिससे अधिक से अधिक लोग स्वच्छता के प्रति जागरूक हो सके। इसके अतिरिक्त समस्त ग्राम पंचायतों में सार्वजिनक स्थलों पर अलग-अलग डस्टबिन आदि भी रखवाये जायें ताकि आस-पास से निकलने वाले कूड़े करकट डस्टबीन में रखा जा सके। उन्हाेंने निर्देश दिया कि ग्रामों के मुख्य प्रवेश मार्गों व सार्वजनिक स्थलों पर आदि पर साफ-सफाई व स्वच्छता सम्बन्धी मैसेज की वाल राइटिंग करायी जाये जिससे स्वच्छता का संदेश अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाया जा सके। 

इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी द्वारा स्वच्छ भारत विश्व शौचालय दिवस 09 से 19 नवम्बर 2018 तक आयोजित गतिविधियों, निर्मित शौचालय की एमआईएस एवं फोटो अपलोडिंग, स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण अन्तर्गत वित्तीय वर्ष 2018-19 में व्यक्तिगत शौचालय निर्माण हेतु निर्गत धनराशि, व्यक्तिगत शौचालयों की जिओ टेगिंग प्रगति, ओडीएफ ग्रामों की प्रगति एवं सत्यापन सहित अन्य बिन्दुआें की समीक्षा करते हुए सम्बन्धित को आवश्यक दिशा निर्देश दिया। इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डा. ए.के पाण्डेय, खण्ड विकास अधिकारी कैसरगंज/प्रशिक्षु आईएएस प्रभाष कुमार, जिला विकास अधिकारी वीरेन्द्र सिंह, डी.सी मनरेगा शेषमणि, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी एसके तिवारी, जिला विद्यालय निरीक्षक राजेन्द्र कुमार पाण्डेय, डीपीआरओ के.बी वर्मा सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी मौजूद रहे।

Advertisement

Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision