Latest News

शुक्रवार, 23 नवंबर 2018

रेल का खेल (2) - टैक्‍स चुरा कर करते खेल, इनको पकड़ो भेजो जेल

कानपुर 23 नवम्‍बर 2018 (सूरज वर्मा). प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी पूरी सरकार भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगाए हुए है। इसी लिये मोदी सरकार ने जीएसटी लागू किया, लेकिन भ्रष्‍ट अधिकारियों की मिलीभगत से कानपुर सेंट्रल स्टेशन पर कुछ दलाल सरकार को हर माह सौ करोड़ से ज्यादा का चूना लगा रहे हैं। 


सेंट्रल स्टेशन कानपुर से बड़े पैमाने पर बिना ई-बिल के जरिए गुटखा देश के कई शहरों में भेजा जाता है और इन्हें ले जाने और वहां से बाहर निकालने के लिए पूरा गैंग काम करता है। इसके अलावा बाहर से बड़े पैमाने पर सुपाड़ी, होजरी प्रोडक्ट्स, इलायची, तम्बाकू, रेडीमेड कपड़े और इलेक्ट्रानिक्स का सामान कानपुर में आता है। कानपुर सेंट्रल आने-जाने वाली करीब 300 से ज्यादा ट्रेनों में स्टेट जीएसटी और रेलवे के कर्मचारियों के साथ मिलकर दलाल करोड़ों की टैक्स चोरी हर महीने कर रहे हैं।

केशवलाल के पकड़े जाने के बाद खुलासा हुआ था कि जितना माल ट्रेनों से आता था उसके आधे वजन पर भी टैक्स सरकारी खाते में जमा नहीं होता था।

बीते दिनों जीएसटी के एडिशनल कमिश्नर केशव लाल को काली कमाई के आरोप में पकड़ा गया था। केशव लाल ने अपनी 26 साल की नौकरी में सौ करोड़ से ज्यादा की रकम काली कमाई के जरिए बिस्तरों में छिपा कर रखी थी। बताते चलें कि केशवलाल के पकड़े जाने के बाद खुलासा हुआ था कि जितना माल ट्रेनों से आता था उसके आधे वजन पर भी टैक्स सरकारी खाते में जमा नहीं होता था। जिसके बदले में बाकी रकम का कुछ हिस्सा व्यापारी को वापस हो जाता था और बाकी केशवलाल और उसकी टीम के अलावा रेलवे के कर्मचारियों को बांट दिया जाता था। इसमें सारा खेल दलालों के माध्यम से खेला जाता था।

कुछ सफेदपोश नेता और चन्‍द दलाल मिल कर सरकार को हर माह करीब सौ करोड़ का चूना लगा रहे हैं

जीएसटी घोटाले के राज से पर्दा उठाने के बाद लगा था कि टैक्‍स चोरी थम जायेगी पर अभी भी कानपुर सेंट्रल स्टेशन पर पार्सल का खेल बदस्तूर जारी है। यहां खुलेआम जीआरपी, आरपीएफ और जीएसटी अधिकारियों की नाक के नीचे से दलाल बिना ई-वे बिल के माल निकलवा रहे हैं। ये वो सामान है जिसे ट्रेनों के माध्यम से दिल्ली से कानपुर भेजा जाता है। सूत्रों के अनुसार दिल्ली से भी माल बिना बिल के लोड होता है और फिर कानपुर पहुंच कर बिना बिल के ही अनलोड करके बाहर निकल जाता है।




कानपुर रेलवे स्टेशन पर योगी सरकार में भ्रष्टाचार अपनी सीमाएं तोड़ रहा है। रेलवे स्टेशन पर दलालों का साम्राज्य इस कदर हावी है की खुलेआम करोड़ों रुपये की जीएसटी चोरी हो रही है। आरोप है कि स्टेशन के दलाल इन अधिकारियोंं को भारी रिश्वत देते हैं जिससे इनकी आंखे और जुबान बंद रहती है। इस पूरी प्रक्रिया में देश के राजस्व को हर माह करीब सौ करोड़ का चूना लग रहा है। कुछ सफेदपोश नेता और चन्‍द दलाल मिल कर सरकार को तगड़ा चूना लगा रहे हैं।




(Suraj Verma - 08127536298) 





Advertisement

Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision