Latest News

शनिवार, 27 अक्तूबर 2018

ग्राम प्रधान पर लगा करोड़ों रूपये के घोटाले का आरोप

कानपुर 26 अक्टूबर 2018 (महेश प्रताप सिंह/अनुज तिवारी). उत्तर प्रदेश सरकार में लाख दावे किए जायें कि हम भ्रष्‍टाचार मुक्त प्रदेश बनायेगें और सरकार द्वारा दी गई प्रत्येक योजना का लाभ प्रदेश के प्रत्येक नागरिक तक पहुंचेगा। लेकिन वास्तविकता में ऐसा दूर-दूर तक नहीं दिखाई दे रहा है हकीकत यह हो गई है कि जिसकी लाठी उसकी भैंस, यानी क्षेत्र में जिसकी सत्ता बरकरार है उसी की दबंगई के चलते क्षेत्र में उसकी तूती बोलेगी। 



ताजा मामला कानपुर के करीब रसूलाबाद थाना क्षेत्र का है जहां पर बडे भ्रष्टाचार का खुलासा सामने आया है लेकिन उसकी लीपापोती करने में विभाग के ही आला अधिकारी लगे हुए हैं। आपको बता दें कि मामला झींझक ब्लाक के धर्मूपुर व रतनपुर गांव का है, जिस ब्लॉक में तकरीबन 18 गांव लगते हैं और इस गांव में गांव वालों का आरोप है कि जब से प्रधान पति ओम सिंह के हाथ में कमान आई है तब से अनेक भ्रष्टाचार हुए हैं ।

भ्रष्टाचार ऐसे ही आप की आंखें खुल जाएंगी जब आप अपनी आंखों से देखेंगे। यानी नहीं बनी हुई सड़कों पर फिर से सड़कें बनाई गई, कागजों पर बिना स्कूल के स्कूल में मिट्टी डलवाई गई, कागजों पर बिना बने हुए नाले ऊपर नाले बनवाए गए, गांव में बिना बने हुए शौचालय पर शौचालय बनाये गए, हद तो तब हो गई जब अधिकारी आये तो जिस स्कूल में बैठ कर लोगों की समस्या पूछी जा रही थी उसी स्कूल का नल कई सालों से खराब पड़ा हुआ था। 

जब अब गांव वालों ने भ्रष्टाचार का पुलिंदा खोला है तो अधिकारी भागते भागते गांव की जांच करने आ गए लेकिन यह सिर्फ एक लीपापोती के चलते हुआ क्योंकि यहां करोड़ों रुपए का घोटाला है और घोटाले के बाद अधिकारी जांच करने पहुंचे तो नौबत यहाँ तक आ गयी कि पीड़ित लोग व प्रधान के समर्थक आमने सामने आ गए और लोगों में अधिकारी के सामने ही मार पीट का भी नम्बर आ गया, जो बाल बाल बचा लेकिन कार्यवाही अभी तक कुछ नहीं। अब देखने वाली बात यह होगी कि आला अधिकारी जांच के नाम पर क्या कार्यवाही करेंगे या कागजों पर ही कार्यवाही हो जाएंगी। 

Special News

Health News

Advertisement


Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision