Latest News

रविवार, 16 सितंबर 2018

निर्माणाधीन परियोजनाओं में तेज़ी लाएं कार्यदायी संस्थाएं : जिलाधिकारी

बहराइच 15 सितम्बर 2018 (ब्यूरो रिपोर्ट). रू. 50 लाख से अधिक लागत की निर्माणाधीन भवन परियोजनाओं की समीक्षा के लिए शुक्रवार की देर शाम जिलाधिकारी शिविर कार्यालय पर आयोजित बैठक की अध्यक्षता करती हुईं जिलाधिकारी माला श्रीवास्तव ने कार्यदायी संस्थाओं तथा नोडल विभागों को निर्देश दिया कि बेहतर समन्वय के साथ निर्माणाधीन भवन परियोजनाओं को गुणवत्ता के अनुसार समय से पूर्ण करायें। 


उन्होंने सम्बन्धित कार्यदायी संस्थाओं को सचेत किया कि निर्माण कार्य मानक के अनुसार न होने पर सम्बन्धित के विरूद्ध प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करायी जा सकती है साथ ही संस्था को ब्लैक लिस्टेड भी किया जा सकता है। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी को निर्देश दिया कि बहराइच बस डिपो परिसर में कार्यदायी संस्था यूपीसिडको (समाज कल्याण निर्माण निगम) द्वारा कराये जा रहे कार्यो की गुणवत्ता की जाॅच करायें। उत्तर प्रदेश प्रोजेक्ट कारपोरेशन लिमिटेड द्वारा कराये जा रहे जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान के सुदृढ़ीकरण कार्य की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने प्रधानाचार्य डायट को निर्देश दिया कि कार्यो की तकनीकी जाॅच करा ली जाय। तकनीकी जाॅच संतोषजनक पाये जाने पर अवशेष बजट की माॅग के लिए उनकी ओर से पत्र भिजवाया जाय। 

कार्यदायी संस्था सीएण्ड डीएस द्वारा निर्माणाधीन राजकीय बालिका इण्टर कालेज काज़ीपुरा की समीक्षा के दौरान जिला विद्यालय निरीक्षक को निर्देश दिया गया कि निर्माण कार्य की गुणवत्ता की जाॅच करा ली जाय। उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम द्वारा निर्माणाधीन सिविल कोर्ट की बाउण्ड्रीवाल निर्माण कार्य समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने कार्यो में तेज़ी लाये जाने के साथ अब तक हुए कार्यो की तकनीकी जाॅच कराये जाने का निर्देश दिया। राजकीय निर्माण निगम द्वारा निर्मित 100 शैय्या महिला मैटरनिटी विंग की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने भवन के हस्तान्तरण की कार्यवाही को तत्काल पूरा कराये जाने का निर्देश दिया। 

बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने कार्यदायी संस्था सी एण्ड डीएस को निर्देश दिया कि बिछला में निर्मित राजकीय माॅडल इण्टर कालेज को अक्टूबर माह के प्रथम सप्ताह तथा ट्रामा सेन्टर के निर्माण कार्य को चालू माह में पूर्ण कराये जाने का निर्देश दिया। जबकि नगर पंचायत जरवल में आसरा योजनान्तर्गत निर्माणाधीन आवासों की तकनीकी जाॅच कराये जाने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने सभी सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिया कि सत्यापन के उपरान्त आन गोईंग प्रोजेक्ट के लिए धनराशि की माॅग कर ली जाय। उन्होंने निर्देश दिया कि जो भी परियोजनाएं पूर्ण हो गयी है उन्हें हस्तान्तरित कर आमजन के उपयोग में लाया जाय। इसके पश्चात बार्डर एरिया डेवलपमेन्ट प्रोग्राम योजनान्तर्गत जल निगम, लोक निर्माण, वन, ग्रामीण अभियन्त्रण विभाग, कौशल विकास योजनाओं की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि जो परियोजनाएं पूर्ण हो गयी हैं उनके उपभोग प्रमाण-पत्र उपलब्ध करा दिये जायें तथा सभी आन गोईंग प्रोजेक्ट में तेज़ी लाकर कार्याें को समय से पूर्ण कराना सुनिश्चित करें। 

इस अवसर पर प्रभागीय वनाधिकारी बहराइच आर.पी. सिंह व कतर्नियाघाट के जी.पी. सिंह, अधीक्षण अभियन्ता विद्युत आर.पी. यादव, अधि.अभि. विद्युत बहराइच मुकेश बाबू, जिला विद्यालय निरीक्षक राजेन्द्र कुमार पाण्डेय, परियोजना निदेशक डीआरडीए अनिल कुमार सिंह, परियोजना अधिकारी डूडा संजय कुमार सिंह सहित अन्य अधिकारी तथा कार्यदायी संस्थाओं के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

Advertisement

Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision