Latest News

शनिवार, 7 जुलाई 2018

ज़रा इधर भी ध्‍यान दीजिये जनाब, साहबगंज सड़क मार्ग बन गया है तालाब

अल्हागंज 07 जून 2018 (अमित वाजपेयी). सावन माह मे निकलने वाली कांवड यात्रा के मद्देनज़र जिलाधिकारी शाहजहांपुर अमृत त्रिपाठी ने कांवड यात्रा सड़क मार्ग को सुगम और गड्ढा मुक्त बनाने के लिए कर्मचारियों को निर्देश तो दे दिया है, लेकिन साहबगंज दलदली सड़क मार्ग कैसे सुधरेगा जहाँ कि सडक गड्ढों में है और उसमें कीचड़ पानी दो फिट तक भरा हुआ है। 


आम जनों के दो पहिया और चार पहिया वाहन यहां तक की इक्का ट्रेक्टर ट्रालियां भी उसमें फंस कर अपना दम तोड़ देती हैं, पैदल यात्री भी उसमें घुसकर निकलने को मजबूर हैं। कीचड़ पानी दलदली मार्ग को पार करने के दौरान अक्सर स्कूली बच्चे और ग्रामीण उसमें गिरकर चोट खा जाते हैं और उनके कपड़े भी पानी में सराबोर हो जाते हैं। दरअसल यह पीडब्ल्यूडी सड़क मार्ग अल्हागंज बिलग्राम मार्ग कहलाता है। यह अल्हागंज मुख्य बाजार से होते हुए पूर्बी मंझा, साहबगंज , पुराना साहबगंज होते हुऐ हुल्लापुर चौराहे से मिलता है। सर्दी और बरसात के दिनों में इन गावों के बाशिदें नरकीय जीवन व्‍यतीत करने के लिए मजबूर है। 

पांचाल घाट गंगा तट से जल लेकर भगवान शिव जी के दरबार छोटी काशी गोलागोकर्णनाथ जाने के लिए अल्हागंज बाइपास तथा अल्हागंज बिलग्राम मार्ग से होकर कांवड यात्री निकलते हैं। भारी भीड़ भाड़ और वाहनों की आवाजाही से बचने के लिए अधिकांश पैदल कांवड यात्री इसी मार्ग से होकर निकलते है। लेकिन अब यह सड़क मार्ग पूरी तरह बंद हो गया है। कांवड यात्रा के दौरान इस दलदली  सड़क मार्ग कि मरम्मत हो पायेगी या नहीं यह कहा नहीं जा सकता। इस दलदली सड़क मार्ग की मरम्मत करवाने के वास्ते मानवाधिकार सुरक्षा  संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उनके साथियों ने 16 जून को साथियों ने साहबगंज में ही बेमियादी धरना प्रदर्शन किया था। 

17 जून को नायब तहसीलदार श्यामवीर सिंह ने मौके पर जाकर सड़क की मरम्मत कराने की कार्यवाही कराने का अश्वासन देते हुऐ धरना प्रदर्शन खत्म करा दिया था।  मामले को खुलासा TV  ने 17 और 18 जून को प्रमुखता के साथ प्रकाशित किया था। बाद में 21 जून को ग्रामीणों की दुश्वारियों को दर्शाते हुऐ विस्तार के साथ प्रकाशित कर प्रशासनिक अधिकारियों तथा जनप्रतिनिधियों का ध्यान आकर्षित किया था। लेकिन इस बडी समस्या पर अभी तक किसी ने ध्यान नहीं दिया । इस सम्‍बन्‍ध में लोक निर्माण विभाग कुछ न बोलकर खामोशी साधे हुऐ है। जलालाबाद से स्थानांतरित होकर जा चुके श्यमवीर सिंह कहते है कि सड़क निर्माण सम्बधी ज्ञापन को एसडीएम जलालाबाद को दे दिया था उस पर क्‍या कार्यवाही हुई उनको नहीं मालूम।

Special News

Health News

Advertisement


Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision