Latest News

सोमवार, 4 जून 2018

नगर निगम के उद्यान अधीक्षक उड़ा रहे हैं जनसुनवाई पोर्टल की धज्जियाँ

कानपुर 04 जून 2018 (महेश प्रताप सिंह). जनसुनवाई पोर्टल पर तो गोलमोल आख्या लगा कर निस्तारण कर दिया जाता है, सच में काम करवाना है तो मुझसे आकर मिलो, यह कहना है नगर निगम के उद्यान अधीक्षक वी.के सिंह का। इससे पता चलता है कि सरकारी अधिकारी कितने बेखौफ और लापरवाह हैं, इनको अब मुख्‍यमंत्री का भी कोई खौफ नहीं रह गया है। 


मामला है गुजैनी ए ब्लाक निवासी अविनाश श्रीवास्तव का, इनके मकान के सामने यूकेलिप्टस के तीन बड़े पेड़ लगे हैं जो आँधी आने पर कभी भी मकान के ऊपर गिर सकते हैं और जनहानि हो सकती है । दुर्घटना से बचाव हेतु अविनाश श्रीवास्तव ने मुख्यमंत्री के जनसुनवाई पोर्टल पर नगर आयुक्त को सम्बोधित शिकायत दर्ज करायी थी जिसमें दुर्घटना को निमंत्रण दे रहे यूकेलिप्टस के पेड़ों की काट छाँट का अनुरोध किया गया था। शिकायत के निस्तारण हेतु नगर आयुक्त द्वारा नगर निगम के उद्यान अधीक्षक को शिकायत अग्रसारित किया गया, किंतु उद्यान अधीक्षक द्वारा शिकायत की अनदेखी किये जाने पर अविनाश श्रीवास्तव ने उद्यान अधीक्षक वी.के सिंह को फोन कर अपनी समस्या से अवगत कराते हुये जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत लम्बित होने की बात कही। जिस पर वी.के सिंह ने जो जवाब दिया वो चौंकाने वाला था ।

उद्यान अधीक्षक वी.के सिंह ने फोन पर अविनाश श्रीवास्तव से कहा कि जनसुनवाई पोर्टल पर तो गोलमोल आख्या लगा कर समस्या का निस्तारण कर दिया जाता है पर वहां से काम नहीं होता है, अगर आपको काम कराना है तो मुझसे मिलना चाहिये और उसी दिन उन्होंने जनसुनवाई पोर्टल पर की गयी शिकायत के सम्बंध में बिना स्थलीय निरीक्षण कराये अपनी आख्या में दुर्घटना को निमंत्रण दे रहे पेड़ों को मजबूत स्थिति में बताते हुये आख्या अपलोड कर समस्या का निस्तारण कर दिया। जबकि जनसुनवाई पोर्टल पर जिलाधिकारी को सम्बोधित उसी मामले की दूसरी शिकायत में वन विभाग द्वारा स्थलीय निरीक्षण करने के उपरांत अपलोड की गयी आख्या में अविनाश श्रीवास्तव के मकान के सामने लगे यूकेलिप्टस के पेड़ों को आंधी तूफान आने पर अविनाश श्रीवास्तव के मकान के ऊपर गिरने की सम्भावना जताते हुये जनहानि होने की आशंका जतायी गयी है । जिससे स्पष्ट प्रतीत होता है कि उद्यान अधीक्षक जानबूझ कर जनता के बीच सरकार की छवि खराब करने का कार्य कर रहे हैं ।

आपको बताते चलें कि हाल में ही गीता पार्क के सुंदरीकरण कार्य में घटिया निर्माण कराये जाने की शिकायत क्षेत्रीय विधायक इरफान सोलंकी ने कमिश्नर से की थी, जिसके बाद कमिश्नर द्वारा करायी गयी जाँच में नगर निगम के उद्यान अधीक्षक वी.के सिंह और अधिशासी अभियंता एस.के सिंह को घटिया निर्माण का दोषी पाया गया है ।

Special News

Health News

Advertisement


Created By :- KT Vision