Latest News

शुक्रवार, 11 मई 2018

कानपुर - DMSRDE ने बनायी अभेद बुलेट प्रूफ जैकेट

कानपुर 11 मई 2018 (सर्वेश कुशवाहा). रक्षा उत्पाद विकसित करने वाली डिफेन्स मैटेरियल स्टोर्स रिसर्च एंड डेवलपमेन्ट इस्टेब्लिशमेंट (DMSRDE) ने एक ख़ास सुरक्षा कवच बनाया है। DMSRDE संस्थान का दावा है कि यह दुनिया की इकलौती ऐसी बुलेट प्रूफ जैकेट है जिसे कोई अत्याधुनिक हथियार भेद नहीं सकता, यह बुलेट प्रूफ जैकेट 360 डिग्री कोण से बचाव करेगी।


देश की रक्षा में सीमा पर तैनात वीर जवानों की रक्षा कानपुर ने एक और मुकाम हासिल कर लिया है। डिफेन्स मैटेरियल स्टोर्स रिसर्च एंड डेवलपमेन्ट इस्टेब्लिशमेंट (DMSRDE) ने ऐसी बुलेट प्रूफ जैकेट तैयार कर ली है जिस पर ए.के 47 राइफल से अगर हार्ड स्टील कोर बुलेट का भी कोई असर नहीं होगा। ए.के 47 को दुनिया के सबसे अत्याधुनिक हथियारों में माना जाता है, इसकी हार्ड स्टील कोर बुलेट की मारक क्षमता सबसे ज्यादा है। दुश्मनों द्धारा हार्ड स्टील कोर बुलेट का इस्तेमाल में लाये जाने के बाद इस जैकेट को बनाया गया है।

DMSRDE के कार्यकारी निदेशक एस.बी यादव के मुताबिक ऐसी बुलेट प्रूफ जैकेट फिलहाल किसी देश के पास नहीं है। DMSRDE ने पांच साल की कड़ी रिसर्च के बाद इस बुलेट प्रूफ जैकेट को तैयार किया गया है। एस.बी यादव का कहना है कि पहले ए.के 47 की बुलेट माइल्ड स्टील कोर की होती थी जिसकी मारक क्षमता कम होती थी लेकिन अब जो बुलेट आ रही है वो हार्ड कोर स्टील की होती है जिसकी मारक क्षमता दुगनी और अचूक होती है, अगर कोई सैनिक साधारण बुलेट प्रूफ जैकेट पहने हुए है तो उसकी जान को ख़तरा हो सकता है लेकिन इस बुलेट प्रूफ जैकेट को गोली भेद नहीं सकती है।

समर बहादुर यादव (कार्यकारी निदेशक) ने बताया कि DMSRDE में बनायी गयी बुलेट प्रूफ जैकेट की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इसमें ऊपर की तरफ बोरान कार्बाइड की प्लेट लगाई गयी है और अंदर की तरफ अल्ट्रा पालिएथिलीन पॉलिमर की प्लेट लगाई गयी है जिससे हार्ड स्टील कोर बुलेट भी इसको भेद नहीं सकती है। अगर कोई सैनिक इस बुलेट प्रूफ जैकेट को पहने हुए है और दुश्मन सैनिक उस पर गोली चलाता है तो यह जैकेट सैनिक की सुरक्षा करने में सक्षम है । यह बुलेट प्रूफ जैकेट और देशों की अपेक्षा वजन में हल्की मजबूत और सख्त है जो बुलेट को जैकेट के आर पार नहीं होने देती है, जिससे गोली की मारक क्षमता कमजोर हो जाती है और बुलेट जैकेट में फंस जाती है |

नेशनल टेक्नोलॉजी डे के अवसर पर DMSRDE द्धारा आयोजित प्रदर्शनी में इस ख़ास बुलेट प्रूफ जैकेट के अलावा एंटी माइन जूते, हेलमेट, एनबीसी सूट, लाइफ जैकेट आदि प्रदर्शित किये गए, प्रदर्शनी को देखने के लिए कई स्कूलों के बच्चे और अध्यापक भी पहुंचे थे। बुलेट प्रूफ जैकेट के अलावा प्रदर्शनी में एक ख़ास तरह का मल्टी स्पेक्ट्रम सूट भी दिखाया गया, जिसको पहनकर सैनिक अगर ग्रीन बेल्ट एरिया में पेड़ पौधों में घुलमिल जाता है और रडार भी उसको पकड़ नहीं सकता है |


Special News

Health News

Advertisement

Important News


Created By :- KT Vision