Latest News

मंगलवार, 22 मई 2018

कानपुर - एलनगंज कॉलोनी मामले में नेताओं ने हाईकोर्ट का हवाला देकर झाड़ा पल्ला

कानपुर 22 मई 2018 (सूरज वर्मा). टेफ्को की सेटेलमेंट कॉलोनी को खाली कराने के हाईकोर्ट के आदेश को लेकर आज भी गहमागहमी बनी रही। एलनगंज में कई दुकानों को आज सील कर दिया गया। स्‍थानीय जनता अपने आशियानों को बचाने के लिए पिछले कई दिनों से कड़ी धूप में आंदोलन कर रही है। आज कॉलोनी के निवासियों के बीच पहुंचे सांसद देवेन्‍द्र सिंह भोले ने उन्हें आश्वासन दिया कि शाम को कमिश्नर से मुलाकात कर इस मुद्दे पर बीच का रास्ता निकालने के लिए मंथन किया जाएगा.



बताते चलें कि एलनगंज में मैसर्स टेनरी एंड फुटवियर कार्पोरेशन ऑफ इंडिया (टेफ्को) की आवासीय कालोनी है। वर्ष 2000 में फैक्ट्री बंद होने के बाद कंपनी ने कर्मचारियों को वीआरएस दे दिया था। उस वक्त घर खाली कराने की कोशिश की गई लेकिन ऐसा नहीं हो सका। इस प्रकरण में लिक्वीडेटर की ओर से हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की गई थी। इस पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने पहले एक मई को कंट्रोल रूम, कमेटी हाल, स्कूल आदि सार्वजनिक स्थानों को कब्जा मुक्त करके सील करने को कहा था।

एलनगंज सेटलमेंट कॉलोनी में जब से हाईकोर्ट का नोटिस आया, तभी से यहां के लोगों के चेहरे पर गम और गुस्सा देखा जा रहा है. चूंकि मामला हाईकोर्ट का है, ऐसे में शासन और प्रशासन भी चाहकर कुछ नहीं कर पा रहा है. इन सबके बीच एलनगंज में कई दुकानों को आज सील भी किया गया, जिसकी वजह से लोगों की दहशत और बढ़ गई है. आशियानों के उजड़ने से परेशान एलनगंज के लोगों का कहना है कि वह अपने घरों को छोड़कर नहीं जाएंगे. पिछले कई दिनों से चल रहे आंदोलन के बाद आज स्‍थानीय सांसद देवेंद्र सिंह भोले और भाजपा जिलाध्यक्ष सुरेंद्र मैथानी यहां के लोगों के बीच पहुंचे. इलाकाई लोगों ने उन्हें अपनी समस्या से अवगत कराया. इस दौरान मांग की गई कि, सरकार के स्तर से मामले का कोई हल निकाला जाए. हालांकि, सांसद और भाजपा नेता मामला हाईकोर्ट का बताते हुए ज्यादा कुछ नहीं बोले।

Advertisement

Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision