Latest News

बुधवार, 28 फ़रवरी 2018

शाहजहांपुर - शिक्षा के दरबार से शिक्षक नदारद, बच्चे परेशान

शाहजहांपुर 28 फरवरी 2018(अमित वाजपेयी/अम्बुज शुक्ला). भाजपा सरकार में एक तरफ़ प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शिक्षा को बढावा देने में कोई कसर बाक़ी नहीं छोड रहे हैं। वहीं दूसरी और शिक्षक शिक्षा के दरबार से नदारद रहने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं, शिक्षक न स्कूल आते हैं और न क्लास लेते हैं। आते हैं तो मोबाइल में बिजी रहते हैं। 


यह हाल है जलालाबाद विकास खण्ड के प्राथमिक विद्यालय चौरासी का, जहाँ शिक्षक ड्यूटी हाजिरी लगाकर चले जाते हैं। कुछ स्कूल ही नहीं आते जिसकी वजह से स्कूल में बच्चों की संख्या धीरे-धीरे कम होती चली जा रही है।  प्राप्त जानकारी के अनुसार प्राथमिक विद्यालय चौरासी के शिक्षक शिक्षा के दरबार से नदारत रहते हैं। जिसकी शिकायतें लगातार आ रही थी। आज बुधवार को नाम न छापने की बात पर एक व्यक्ति ने फोन पर बताया कि शिक्षक आज भी  गायब हैं और एक अध्यापक सिर्फ़ बच्चों को पढा रहे हैं। जिस पर कुछ पत्रकारगण मौके पर करीब 1:30 बजे स्कूल पहुंचे तो वहां सिर्फ़ प्रदीप मिश्रा करीब 20 से 25 बच्चों को पढा रहे थे। 

रजिस्टर देखने पर पता चला कि राकेश कुमार, रजनी गुप्ता, प्रिया पाण्डे, बबिता गुप्ता अध्यापक अध्यापिका मौजूद नहीं है। पता करने पर मालूम हुआ कि प्रधानाध्यापक राकेश कुमार किसी काम से N.P.R.C गए हुऐ हैं। अध्यापिका रजनी गुप्ता दवाई लेने फरुँखाबाद गई हैं। अध्यापिका प्रिया पाण्डे की बच्चे की तबियत खराब है और बबिता गुप्ता की ड्यूटी लगाने के बाद घर चली गई है। पूरे स्कूल की जिम्मेदारी सिर्फ़ प्रदीप मिश्रा निभा रहे है। शिक्षक इस तरह स्कूल आने से बच्चे काफ़ी उदास बैठे थे। वह भी यहीं सोच रहे थे। कि जब अध्यापक स्कूल में नहीं है तो मेरी भी छुट्टी हो जाए और हम भी घर मे मजे ले। इसी के चलते बच्चों की उपस्थिति और उनकी संख्या धीरे-धीरे कम हो रही है। जिसे कोई देखने वाला नहीं है। इस सम्बन्ध में एबीएसए जलालाबाद आई पी सिंह ने बताया कि इसकी जानकारी मुझे नहीं है, जानकारी प्राप्त करने  के बाद कार्यवाही की जाऐगी।

Special News

Health News

Advertisement


Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision