Latest News

बुधवार, 7 फ़रवरी 2018

शाहजहांपुर - डीएम ने नकल माफियाओं के हौसले किये पस्त

शाहजहाँपुर 07 फरवरी 2018. यू.पी.बोर्ड की हाई स्कूल एवं इण्टरमीडिएट की परीक्षाओं को सकुशल एवं नकल विहीन सम्पन्न कराने के लिए जिलाधिकारी अमृत त्रिपाठी ने पुलिस अधीक्षक के साथ प्रातः से हाई स्कूल की पहली प्रथम परीक्षा का तहसील कलांन के अन्तर्गत परीक्षा केन्द्रों का आकस्मिक निरीक्षण किया।


इस अवसर पर जिलाधिकारी ने सर्वप्रथम धर्मजीत सिंह इण्टर कालेज मिर्जापुर का निरीक्षण करते हुए प्रधानाचार्य कमलेश यादव को निर्देश दिये कि यदि परीक्षाओं के दौरान कोई भी अनापत्ति सामग्री कालेज में न रखें और न ही किसी को रखने दें। यदि कोई व्यक्ति या परीक्षार्थी नकल करते या कराते हुए पाया जायेगा तो उसके खिलाफ कठोर से कठोर कार्यवाही की जायेगी। जिलाधिकारी ने कहा कि बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कदापि नहीं होगा। उक्त अवसर पर कालेज के परीक्षा कक्षों में सी.सी.टी.वी. कैमरों को भी चेक किया। जो कार्य करते हुए पाये गये इसके उपरान्त कालिका प्रसाद इण्टर कालेज मिर्जापुर का निरीक्षण किया। व्यवस्था ठीक पायी गयी। इस पर जिलाधिकारी ने नियुक्त स्टेटिक मजिस्ट्रेट रूपेश सिंह को निर्देश दिये कि परीक्षा के दौरान शान्तिपूर्ण परीक्षाएं सम्पन्न करायें।

मानस  उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कलांन एवं मकरन्द सिंह इण्टर कालेज कलांन, सुभाष चन्द्र बोस इण्टर कालेज, भर्रामई कलांन, श्री गोकरन सिंह मेमोरियल इण्टर कालेज, सथरा धर्मपुर कलांन, स्वामी जीवानन्द मेमोरियल, श्री नन्हें सिंह इण्टर कालेज विक्रमपुर कलांन, श्री राम सहाय इण्टर कालेज, नरसुईया आदि का निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने केन्द्रों व्यवस्थपकों एवं प्रधानाचार्य को सख्त निर्देश दिये कि विद्यालय परिसर से 200 मीटर की दूरी तक कोई भी दुकान, वाहन अन्य व्यक्ति दिखाई न दे और परीक्षाओं को सकुशल नकल विहीन परीक्षा करायें। पुसिल अधीक्षक स्टेटिक मजिस्ट्रेटों एवं प्रधानाचार्यों को आश्‍वासन देते हुए कहा कि किसी भी दशा में नकल नहीं होनी चाहिए क्योंकि नकल कराने तथा करने वाले व्यक्ति अपराध की श्रेणी में आते हैं यह कृत बर्दाष्त नहीं करेगा  और पुलिस सदैव आपके साथ रहेगी। इसके उपरान्त जिलाधिकारी ने प्राथमिक विद्यालय विक्रमपुर कलांन का आकस्मिक निरीक्षण किया।

जिलाधिकारी ने सर्वप्रथम अध्यापकों की संख्या की जानकारी करते हुए पाया कि दो अध्यापक एवं एक शिक्षामित्र तैनात है शिक्षामित्र ने बताया कि प्रधानाचार्य की ड्यिटी बोर्ड की परीक्षाओं में लगी है, एवं सहायक अध्यापक बीमार होने के कारण मेडिकल लीव पर हैं। जिलाधिकारी ने विद्यालय की बाउन्ड्रीवाल न बने होने पर व ग्रामवासियों के द्वारा विद्यालय के समीप गोबर आदि पाथकर अतिक्रमण कर रखा है। जिस पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए थानाध्यक्ष कलांन को निर्देश दिये कि ग्राम प्रधान व राजस्व कर्मचारियों से मिलकर पैमाईश कराकर विद्यालय की भूमि को मुक्त करायें। उन्होंने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिये कि विद्यालय की बाउण्ड्रीवाल को बनाया जाये। उक्त अवसर जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने विद्यालय में उपस्थित छात्र-छात्राओं से पढ़ाई की जानकारी करते हुए पहाड़ा भी सुना।

Special News

Health News

Advertisement


Created By :- KT Vision