Latest News

शनिवार, 24 फ़रवरी 2018

खाद्य विभाग ने खोया मण्डी में मारा छापा, मावा छोड़ भागे व्यापारी

कानपुर 24 फरवरी 2018 (महेश प्रताप सिंह/अनुज तिवारी).  होली पर मावा की भारी मांग को देखते हुए कानपुर नगर की खोया मण्डियों में हर वर्ष की भांति भारी मात्रा में खोया एकत्र हो रहा है। नगर और आसपास के क्षेत्रों से लेकर बाहर से भी खोया कानपुर आ रहा है। अधिक पैसा कमाने की लालच में नकली खोवा बेचने और लोगो के स्वास्थ के साथ खिलावाड न हो सके इसलिए खाद विभाग की टीम भी सर्तक हो गयी है और नकली व खराब खोवा की धरपकड के लिए छापेमारी कर रही है।

कानपुर की पुरानी और बडी हटिया खोवामण्डी की शुक्रवार की सुबह उस समय हडकंप मच गया जब खाद्य विभाग की टीम ने अचानक छापेमारी की। टीम को देखकर स्थानीय और बाहर से आये खोवा व्यापारी अपना मावा छोडकर मौके से भाग निकले। वहीं यह बात पूरी मण्डी में फैल गयी जिसपर स्थानीय दुकानदारों ने अपनी दुकानें भी बंद कर दी। टीम द्वारा कई मावा की टोकरियों से मावा के नमूने एकत्र किये गये। टीम द्वारा बताया गया कि होली के मद्देनजर बाजार में नकली मावा की बिक्री न हो जाये इसके लिए छापेमारी की जा रही है। हटिया खोवा मण्डी में छापेमारी कर दो गाडी मावा पकडा गया है, जिसके नमूने लिये गये है जिनकी जांच कराई जायेगी।

क्यों नहीं होती बडी कार्यवाही

होली ही नही हर त्योहारों और शादियों में मिठाईयों की भरपूर मांग होती है। त्योहारों के समय ही खाद्य विभाग सजग दिखाई देता है उसके बाद इस ओर से उनका ध्यान हट जाता है। होली के आस पास भी हर वर्ष छापेमारी ही की जाती है। जांच के लिए खोए के नमूने लिये जाते है लेकिन आगे की कोई कार्यवाही नही होती। कोई ऐसी ठोस व्यवस्था नही बनाई जा पा रही है जिससे मिलावटी व नकली खोया बिकना ही बंद हो जाये, जबकि शहर की सभी खोए की बाजारों में मिलावटी खोया धडल्ले से बिकता है। खासकर दीपावली और होली जैसे बडे पर्वो पर कुन्टलों खोये की खपत कानपुर में होती है।

Special News

Health News

Advertisement

Important News


Created By :- KT Vision