Latest News

शनिवार, 9 दिसंबर 2017

इग्नू में परीक्षा के नाम पर चल रहे फर्जीवाड़े का आप पार्टी नेता अनिल बघेल ने किया खुलासा

रायपुर 09 दिसंबर 2017 (जावेद अख्तर). छत्तीसगढ़ में आम आदमी पार्टी के सक्रिय कार्यकर्ता अनिल कुमार बघेल ने इंदिरा गांधी नेशनल ओपन विश्वविद्यालय में परीक्षा के नाम पर अरबों रूपये के बहुत बड़े फर्जीवाड़े को उजागर किया है। जिससे अनिल की चहुंओर प्रशंसा की जा रही एवं सोशल मीडिया पर भी उक्त खबर छाई हुई है।

आप पार्टी के कार्यकर्ता द्वारा किए गए खुलासे में ये भी संभावना जताई गई है कि इस फर्जीवाड़े एवं लूट में छग, मध्य प्रदेश के साथ दिल्ली के राजनेताओं एवं संबंधित विभाग के अधिकारियों द्वारा मिलकर फर्जीवाड़ा किया जा रहा था। वहीं सच्चाई उजागर होने के बाद से छग, मप्र एवं दिल्ली में कोहराम मच गया है। तो वहीं आम आदमी पार्टी छत्तीसगढ़ द्वारा उक्त फर्जीवाड़े की जांच सीबीआई से कराने की मांग की गई है। 

दो साल पहले मिली थी सूचना - 
विदित हो कि दो साल पहले सूचना मिली थी कि इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी में पैसे देकर परीक्षा पत्र और पेपर पहले से प्राप्त किया जा सकता है। मगर कोई भी ठोस सबूत नहीं होने के कारण बात आई व गई। परंतु लाखों छात्रों के भविष्य को देखते हुए उक्त फर्जीवाड़े का पर्दाफाश करने की जिम्मेदारी आप पार्टी कार्यकर्ता अनिल बघेल ने खुद पर ली। इसके लिए उन्होंने इग्नू में प्रवेश लेने से लेकर परीक्षा तक सभी नियम एवं दिशा निर्देशों का पालन, पूरे योजनाबद्ध तरीके से करते हुए, इस अरबों रूपये के फर्जीवाड़े का परत दर परत खुलासा किया है। 

फर्जीवाड़े का पर्दाफाश किया आप पार्टी के अनिल बघेल ने - 
अनिल कुमार बघेल ने इस पूरे फर्जीवाड़े का पर्दाफाश करने का संकल्प लिया और एक योजना के तहत उन्होंने बीए की परीक्षा में भाग लिया। एक दिसंबर से वह इस परीक्षा में बिलासपुर के केंद्र से शामिल हो रहे हैं। प्रतिदिन परीक्षा संचालकों के माध्यम से उन्हें पेपर प्राप्त हो जाता है और एक दिन पहले ही सारे प्रश्न और उत्तर तैयार कर लिए जाते हैं। अगले दिन परीक्षा केंद्र नियंत्रक के माध्यम से पेपर की आंसर शीट परीक्षा में जमा कर दी जाती है। 

8 दिसंबर का परीक्षा पत्र एक दिन पहले ही पहुंचाया गया - 
अनिल ने 08 दिसंबर को समाज शास्त्र विषय की परीक्षा दी जिसका पेपर उन्हें एक दिन पहले यानि 07 दिसंबर को ही मिल चुका था। 08 दिसंबर को परीक्षा दोपहर 2:00 बजे से था, अतः पेपर और आंसर शीट 07 दिसंबर को प्राप्त करने के पश्चात अनिल ने 08 दिसंबर 2017 शुक्रवार सुबह 8:00 बजे राज्यसभा टीवी के सामने उसकी फोटो भी खिंचवा कर रख ली, जिसमें तारीख और समय स्पष्ट दिख रहा है। अनिल उसी आंसर शीट को 08 दिसंबर की परीक्षा में जमा करके आए हैं। 07 दिसंबर की परीक्षा के पश्चात परीक्षा हॉल बिलासपुर से वे सीधे आम आदमी पार्टी के राज्य कार्यालय रायपुर पहुंचे और 08 दिसंबर को 2:00 बजे से प्रारंभ होने वाली परीक्षा के पेपर एवं आंसर शीट मीडिया के सामने रखते हुए खुलासा किया कि कल दोपहर 2:00 बजे से शुरू होने जा रही परीक्षा में, जो परीक्षा पत्र होगा, वह उनके हाथ में है।

पूरा सेटअप बनाकर फर्जीवाड़े किया जा रहा - 
इग्नू में इतने बड़े फर्जीवाड़े का खुलासा आम आदमी पार्टी ने राष्ट्रीय स्तर पर किया है। इससे जाहिर होता है कि देश के सबसे बड़े विश्वविद्यालय में परीक्षा के नाम पर व्यापक स्तर पर फर्जीवाड़ा चल रहा है। यह अरबों रूपए का घोटाला है, जिसमें दिल्ली से लेकर छग के छोटे-छोटे शहरों में परीक्षा नियंत्रक है, उनका नेटवर्क स्थापित है। जिसके माध्यम से आंसर शीट और पेपर दोनों समय से पूर्व मिल जाता है। इस तरह का फर्जीवाड़ा कर देश के करोड़ों लाखों छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ हो रहा है जो ईमानदारी से परीक्षा देते हैं।

छग आप पार्टी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में किया खुलासा - 
आज इग्नू में इस बड़े भारी पैमाने पर फर्जीवाड़े का खुलासा करने के लिए आम आदमी पार्टी के राज्य कार्यालय में प्रदेश संयोजक संकेत ठाकुर, कोषाध्यक्ष अनिल कुमार बघेल, प्रदेश यूथ विंग के अध्यक्ष और प्रदेश सचिव आदि उपस्थित थे। उन्होंने कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि यह मध्यप्रदेश के व्यापम जैसा घोटाला है। आम आदमी पार्टी ने इग्नू की सभी परीक्षाओं को तत्काल निरस्त करने की मांग की है। दोषी अधिकारियों को सजा देने सीबीआई जांच की मांग की है। 

Special News

Health News

Advertisement

Important News


Created By :- KT Vision