Latest News

मंगलवार, 14 नवंबर 2017

बिठूर – यहां दम तोड़ रहा है स्वच्छता अभियान, कर्मचारी ही लगा रहे हैं पलीता

कानपुर 14 नवम्‍बर 2017 (सूरज वर्मा एवं पप्‍पू यादव). प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूरे प्रदेश में स्वच्छता अभियान चलाया हुआ है, लेकिन इस अभियान की हवा बिठूर नगर पंचायत स्वयं निकाल रही है। लाखों रुपये की कीमत से खरीदे गए अस्थाई शौचालय पड़े-पड़े कबाड़ में तब्दील हो रहे हैं। जबकि टाउन एरिया, घाटों और मुख्य मार्ग पर शौचालयों के न होने से लोगों को बेहद मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। 


स्‍थानीय निवासियों का आरोप है कि नगर पंचायत इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रही है और ये हाल तब है जब बिठूर विधानसभा के विधायक भाजपा से हैं और उनकी माता जी नगर पंचायत की निवर्तमान चेयरमैन हैं। माता जी अबकी चुनाव में भाजपा के टिकट पर प्रत्‍याशी भी हैं। बताते चलें कि शौचालयों की कमी कस्‍बे के लोगों और यहां आने वाले श्रद्धालुओं के लिए किसी बड़े सिरदर्द से कम नहीं है, क्योंकि कस्‍बे के प्रमुख स्‍थानों में शौचालयों की कमी है। अगर कहीं हैं भी तो वहां गंदगी का बुरा हाल रहता है। 

केंद्र सरकार ने स्वच्छ भारत अभियान चलाया तो इसके तहत लाखों रुपये का बजट भी नगर पंचायत को मिला। इसके बाद नगर पंचायत ने अस्थाई शौचालय खरीदे, लेकिन कुछ ही स्थानों पर इन्हें लगाया गया। कुछ दिनों तक जब इनकी देख-रेख नहीं हुई, ये टूट गए और आज ये शौचालय बदहाली के आंसू बहा रहे हैं। ऐसा लगता है मात्र नगर पंचायत ने खानापूर्ति के लिए इन्हें लगवाया था। सूत्रों के अनुसार बहुत बड़ी संख्या में यह शौचालय नगर पंचायत के गोदाम में पड़े-पड़े कबाड़ में तब्दील हो गए हैं। इन शौचालयों का लोहा तक गल गया है, लेकिन पंचायत के अधिकारी कोई सुध लेने को तैयार ही नहीं हैं।

Special News

Health News

Important News

International


Created By :- KT Vision