Latest News

गुरुवार, 26 अक्तूबर 2017

सुषमा स्‍वराज ने मांगी स्विस जोड़े पर हमले की रिपोर्ट

नयी दिल्ली, 26 अक्टूबर (वार्ता). विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने उत्तर प्रदेश के फतेहपुर सीकरी में स्विटजरलैंड के युगल पर हमला करने पर नाराजगी जाहिर की है और राज्य सरकार से पूरे मामले में रिपोर्ट मांगी है। यह मामला रविवार का है। फतेहपुर सीकरी घूमने के लिए आये स्विस युगल पर लोगों ने हमला कर दिया था।

सुषमा ने यह भी कहा कि उनका कायार्लय प्रेमी जोड़े से मिलेगा। विदेश मंत्री ने ट्वीट किया, 'मुझे अभी इस बारे में पता चला। मैंने राज्य सरकार से रिपोर्ट मांगी है। मेरे अधिकारी अस्पताल में उनसे मिलेंगे।' जानकारी के अनुसार, फतेहपुर सीकरी में युवाओं के समूह ने स्विटजरलैंड के एक प्रेमी जोड़े का पीछा किया और पत्थरों एवं लाठियों से उन पर हमला किया जिससे दोनों घायल हो गए। इधर पुलिस ने मामले की छानबीन के दौरान एक संदिग्ध को गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू कर दी है।
 
गौरतलब है कि क्वेंटिन जेरेमी क्लेर्क (24) अपनी प्रेमिका मैरी द्रोज(24) के साथ 30 सितंबर को भारत आया था। क्लेर्क के हवाले से बताया गया कि वह अपनी प्रेमिका के साथ आगरा में घूमने के बाद फतेहपुर सीकरी में रेलवे स्टेशन के निकट घूम रहा था तभी समूह ने उनका पीछा करना शुरू कर दिया और बाद में उन पर हमला किया। जोड़े ने कहा कि वे जमीन पर घायल और खून से लथपथ पड़े थे और वहां खड़े लोग अपने मोबाइल फोन से उनका वीडियो बना रहे थे। पुलिस ने प्रारंभिक जांच के बाद अपनी तरफ से अज्ञात युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। जांच में यह भी साफ हुआ है कि पत्थर मारने वालों ने हमले से पहले हूटिंग भी की थी। वहीं दूसरी तरफ जख्मी पर्यटक को प्राथमिक उपचार के बाद अपोलो रेफर किया गया था। 

युवती के मोबाइल में कुछ फोटोग्राफ भी हैं। उन्हें प्राप्त करने के लिए एक दारोगा को दिल्ली भेजा गया है। विदेशी युगल ने मुकदमा लिखाने से इन्कार कर दिया था। पुलिस ने एक आशंका यह भी जताई थी कि ट्रेन से उछलकर पत्थर लगा होगा। पुलिस का यह अनुमान गलत था। जांच में साफ हुआ कि दोनों सुनसान जगह पर एक दूसरे को किस कर रहे थे। इसी दौरान कुछ युवक वहां आ गए। पहले हूटिंग की उसके बाद उन्हें पत्थर मारे। दारोगा पुष्पेंद्र सिंह ने अज्ञात युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की थी। जिसके बाद पुलिस के हाथ कुछ सुराग लगे हैं। पता चला है कि विदेशी युवती ने घटना से पहले अपने मोबाइल से कुछ फोटोग्राफ लिए थे। उन फोटोग्राफ में वे युवक कैद हो सकते हैं जिन्होंने हमला किया था।

Special News

Health News

Important News

International


Created By :- KT Vision