Latest News

सोमवार, 16 अक्तूबर 2017

कानपुर - मसवानपुर मेें डाक्‍टर पर लगा मंदिर की जमीन कब्‍जाने का आरोप

कानपुर 16 Oct 2017 (विशाल तिवारी). जब भारतीय जनता पार्टी ने 2017 के विधानसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में चुनाव का बिगुल फूंका था तब भाजपा का सबसे प्रमुख एजेंडा अवैध कब्जाधारियों के खिलाफ शिकंजा कसना और जमीनों को कब्ज़ा मुक्त करने के लिए एंटी भूमाफिया सेल का गठन किया था लेकिन एजेन्‍डा फेल होता नजर आ रहा हैै। 


ताजा मामला कानपुर के मसवानपुर का है यहां एंटी भूमाफिया सेल की पोल खुलती नजर आ रही है। इलाकाई लोगों के कहे अनुसार स्‍थानीय डॉक्टर अजय पाल ने समाजवादी पार्टी के दबंग नेता राजू राठौर के सरंक्षण में बिना नक्शा पास करवाये अवैध तरीके से प्राचीन फूलमती नामक मंदिर की जमीन को कब्जाकर उस पर चार मंजिला ईमारत का निर्माण करा डाला। गांव के कुछ बुजर्गों ने यह भी बताया की कुछ दिनों पहले मंदिर की बॉउंड्री को तुड़वाकर ईमारत का निर्माण कार्य चालू करवाया गया था, इस दौरान इलाकाई लोगों के विरोध जताने पर पुलिस के द्वारा निर्माण कार्य रुकवा दिया गया था। 


गाँव के बुजुर्गों ने बताया की जमीन पर एक सैकड़ों साल पुराना कुआँ भी था जिससे लोग पानी भरते थे और शादी विवाह के अवसर पर कुएं की पूजा भी करते थे। जिसे डॉक्टर ने रातों रात मूंदवा दिया और उस पर निर्माण भी करवा दिया। इलाके के लोगों ने सभी प्रशासनिक अधिकारीयों से इस मामले की शिकायत भी की तथा एंटी भू माफिया पोर्टल पर सन्दर्भ संख्या - 41016417000254 के तहत इसकी शिकायत भी दर्ज करवाई थी। लेकिन मामले का निस्तारण ना हो सका और डॉक्टर ने दिनांक 14/10/2017 को रातों रात इमारत की चौथी मंजिल पर लि‍ंटर भी डलवा दिया और अब लोगों को धमकियाँ देता फिरता है। इलाकाई लोगों का यह भी कहना है की डॉक्टर ने पैसों की दम पर अधिकारियों से सांठ गांठ कर चार मंजिला ईमारत का निर्माण करवाया है। वहीं दूसरी तरफ डाक्‍टर अजय पाल का कहना है क‍ि वो कोई गैरकानूनी कार्य नहीं कर रहे हैं। 

Special News

Health News

Important News

International


Created By :- KT Vision