Latest News

शुक्रवार, 6 अक्तूबर 2017

रायगढ़ कलेक्टर ने बैंकर्स बैठक में दिए सख्त आदेश, किसानों को समय पर मिले धान बोनस

रायगढ़ 06 अक्टूबर 2017 (रवि अग्रवाल). कलेक्टर श्रीमती शम्मी आबिदी ने कलेक्टोरेट सभाकक्ष में किसानों के धान बोनस के समुचित वितरण के लिए बैंकर्स की बैठक में सभी को सख्त हिदायत देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की मंशानुरूप किसानों के धान बोनस की राशि का भुगतान दीपावली के पहले दिया जाना है।


जिले के 68,763 किसानों के धान का बोनस 127 करोड़ 97 लाख 6 हजार 3 सौ 10 रूपए की राशि का वितरण किया जाएगा। इसलिए वितरण करने में लापरवाही न बरतें और न ही किसी भी प्रकार की बहानेबाजी करें। किसानों को समय पर बोनस की राशि मिले इसके लिए बैंक में व्यवस्थित तरीके एवं आपसी समन्वय व सहयोग से सभी कार्य करें।

इन बैंकों में अधिक खातेदार - 
कलेक्टर ने विशेष तौर पर उन बैंकों को खास ध्यान देने के लिए निर्देशित किया जिन बैंकों में किसानों के अधिक खातें मौजूद हैं। विभिन्न बैंकों में किसानों के खाते है जिनमें सर्वाधिक खाते, ग्रामीण बैंक, भारतीय स्टेट बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, बैंक ऑफ इंडिया, सेन्ट्रल बैंक ऑफ इंडिया में है। सभी बैंकों को किसानों के धान बोनस की राशि वितरण में मुस्तैदी से कार्य करना होगा।

बैंकों में पर्याप्त मात्रा में नगद - 
रायगढ़ कलेक्टर ने अन्य बैंकों से भी कृषक संख्या एवं दिए जाने वाले बोनस राशि की जानकारी ली। बैंक के प्रतिनिधियों ने उन्हें जानकारी दी कि बैंक में नगद राशि पर्याप्त मात्रा में है। उन्होंने कहा कि सभी बैंक अपने बैंक में नगद राशि के स्थिति की मॉनिटरिंग करते रहे एवं किसी तरह की समस्या आने पर एक दिन पहले सूचित करें। 

इन बातों पर दें विशेष ध्यान - 
रायगढ़ कलेक्टर शम्मी आबिदी ने बैठक में इन बिंदुओं पर खास ध्यान देने के लिए कहा और कुछेक बातों पर ध्यानाकर्षक कराया।
1). ऐसे किसान जिनके पास एक्टिवेटेड रूपे के कार्ड हैं, उन्हें बैंक जाने की जरूरत नहीं है। वे एटीएम कार्ड के जरिए राशि आहरित कर सकते हैं।
2). जिन किसानों के रूपे कार्ड एक्टिवेटेड नहीं है वहां शिविर लगाकर कार्ड एक्टिवेट कराना सुनिश्चित करें।
3). बैंक में किसानों की सुविधा हेतु धान बोनस के वितरण के लिए अलग से काउंटर बनवा दें।
4). एसडीएम बैंकर्स के साथ मिलकर रोस्टर में ड्यूटी लगाएं एवं रोस्टर का पालन करायें।
5). जिस दिन जिस ग्रामवासी का नाम होगा उसी हिसाब से किसानों का आना सुनिश्चित करें।
6). गांवों में अच्छे से मुनादी करवाने की व्यवस्था बनाएं ताकि किसानों को अनावश्यक रूप से भटकना ना पड़े।
7). सभी बैंकों को 20 अक्टूबर तक आधार सीडिंग एवं मोबाइल सीडिंग बढ़ाएं एवं कार्य में गति लाएं। 
8). बैंको के आधार सीडिंग एवं मोबाइल सीडिंग की प्रति सप्ताह समीक्षा की जाएगी।

प्रशंसा और नाखुशी दोनों जाहिर किया - 
कलेक्टर श्रीमती आबिदी ने कुछेक कार्यों की सराहना की तो कुछेक योजनाओं के सही क्रिन्वायन नहीं होने से नाराजगी भी जताई। उन्होंने एक्सिस बैंक के 91 प्रतिशत मोबाइल सीडिंग, देना बैंक के 99 प्रतिशत आधार सीडिंग तथा एचडीएफसी के 100 प्रतिशत मोबाइल सीडिंग की प्रशंसा और सराहना की। तो वहीं मुद्रा लोन, स्टैण्ड अप योजना में धीमी गति पर नाराजगी जाहिर करते हुए सुधार लाने के निर्देश दिए। उन्होंने आगे कहा कि लीड बैंक और उद्योग विभाग समन्वित रूप से शिविर का आयोजन करें। उन्होंने सभी बैकों को समय पर कार्य करने के निर्देश दिए। 

बैठक में ये उपस्थित रहे - 
इस अवसर पर रायगढ़ कलेक्टर के साथ ही जिला पंचायत सीईओ श्रीमती सी.एस. त्रिपाठी, अपर कलेक्टर रोक्तिमा यादव, एसडीएम प्रकाश सर्वे, एसडीएम लैलूंगा बी.आर. ठाकुर, एसडीएम सारंगढ़ आई.एल. ठाकुर, एसडीएम खरसिया अभिषेक गुप्ता, डिप्टी कलेक्टर पी.सी. कोरी, लीड बैंक अधिकारी सोहन पनगढ़हा, उप-पंजीयक सहकारिता बसंत कुमार, खाद्य अधिकारी जी.पी. राठिया, उप-संचालक पशुपालन पांडे सहित सभी बैंकर्स एवं अन्य उपस्थित थे।

Special News

Health News

International


Created By :- KT Vision