Latest News

गुरुवार, 7 सितंबर 2017

ज्ञान कभी भी बिना श्रद्धा के पैदा नहीं हो सकता - योगी आदित्‍यनाथ

कानपुर 07 सितम्‍बर 2017 (सूरज वर्मा एवं विशाल तिवारी). गुरूवार को सीएम योगी आदित्यनाथ कानपुर पहुंचे जहां सीएसए में बने हैलीपेड पर उतरने के बाद वे सबसे पहले नवाबगंज स्थित पंडित दीनदयाल उपाध्याय विद्यालय गये और हनुमान जी की प्रतिमा का लोकार्पण किया। इस दौरान उन्होंने करीब 1 घण्टा विद्यालय में बिताया, उनके साथ कैबिनेट मंत्री सतीश महाना और सत्यदेव पचौरी मौजूद रहे।


मंच को सम्बोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि इस संस्थान ने लम्बी दूरी तय की है में पहली बार इस विद्यालय आया हूँ। मुझे संस्थान में पवनसुत हनुमान जी की मूर्ति के लोकार्पण के बड़े ही खास अवसर पर आने का सौभाग्य मिला। बजरंगबली की भक्ति और पूजा हमें प्रेरणा का मार्ग दिखाती है। उन्‍होंने हनुमान चालीसा की कई पंक्तियों को अपने स्वर में दोहराया और उनके बारे में बताया भी कि संकट के समय हमेशा हम सभी एक ही नाम पुकारते है बजरंगबली। योगी ने हंसते हुए कहा कि हवाई जहाज की यात्रा के दौरान जिन्हें बजरंगबली याद नहीं आते संकट के समय अपने आप याद आ जाते हैं और हनुमान चालीसा का पाठ करने लगते हैं। ज्ञान कभी भी बिना श्रद्धा के पैदा नहीं हो सकता। आपकी भक्ति में श्रद्धा होनी चाहिए। 


हनुमान चालीसा की एक पंक्ति बोलते हुए भूत पिसाच निकट नहीं आवे, महावीर जब नाम सुनावे की लाइन बोलते हुए कहा कि भूत पिसाच क्या है उन्होंने कहा कि ये भूत और पिसाच और कोई नहीं आतंकवाद है आज का, नक्सलवाद है, उग्रवाद है लेकिन बजरंगबली की शक्ति जहां होगी वहाँ आतंकवाद और उग्रवाद भटक ही नहीं सकता। बजरंग बली तो अष्ट सिद्धि नौ निधि के दाता हैं सब कुछ उनकी ही भक्ति है। वहीं उन्होंने कहा कि आज से तीन दिन बाद 11 सितंबर को पूरा भारत स्वामी विवेकानन्द जी के शिकागो में दिये गए भाषण को 125 वीं जयंती मनाएगा। शिकागो में भाषण के दौरान स्वामी जी ने भारत के सनातन धर्म के बारे में लोगों को बताया था। योगी ने कहा कि आज प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में पूरा देश विश्वास के साथ आगे बढ़ रहा है। उन्होंने भारत के अंदर ऐसी योजनाएं बनाई जिसमें भेदभाव की झलक न हो। हर तपके के लोगों के लिए योजनाएं बनाई। नौजवानों के लिए डिजिटल इंडिया, स्किल इंडिया, महिलाओं के लिए प्रधानमंत्री उज्जवला योजना किसानों के लिए ढेर सारी योजनाओं को लाया गया है। 


चीन पर बोलते हुए कहा कि चीन और भारत के बीच में भूटान के पास डोकलाम में जो विवाद की स्थिति पैदा हुई नतीजा क्या हुआ चीन को भागने पर मजबूर होना पड़ा। हमारी राष्ट्रीयता और राष्ट्रभक्ति को यदि कोई चुनौती देगा डोकलाम में दृढ़ विश्वास का जो परिचय दिया हम सबके सामने जीता जागता इसका उदाहरण है। कार्यक्रम के समापन के दौरान स्कूल प्रबंधन ने सीएम योगी को हनुमान जी की तस्वीर भेंट की। जिसके बाद सीएम योगी आदित्यनाथ मोतीझील स्थित कारगिल पार्क के लिए निकल पड़े जहां पहुंचकर स्वामी विवेकानन्द की मूर्ति का भी लोकार्पण किया वहां 15 मिनट रुकने के बाद सीधे योगी सीधे सीएसए के लिए रवाना हो गए। 


Special News

Health News

Advertisement

Advertisement

Advertisement


Created By :- KT Vision