Latest News

बुधवार, 16 अगस्त 2017

डीएम ने रात्रि चौपाल लगाकर पुवायां के बसखेड़ा गांव में सुनी समस्याएं

शाहजहाँपुर 16 अगस्त 2017 (शाहजहाँपुर ब्यूरो). जिलाधिकारी नरेन्द्र कुमार सिंह ने विगत रात्रि तहसील पुवायां के ग्राम बसखेड़ा बुर्जुग के प्राथमिक विद्यालय में चौपाल लगाकर ग्रामीणों की समस्याएं सुनी। जिलाधिकारी ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत सभी को जागरूक होना जरूरी है। आस-पास सफाई का खास ध्यान रखें। ताकि सीजनल बीमारियों से बचाव हो सके। 


गांव-गांव शौचालयों का युद्ध स्तर पर निर्माण कराया जा रहा है। जिनके घरों में शौचालय नहीं हैं। वह जल्द निर्माण कराएं। इसके लिए सरकार सहायता भी दे रही है। जिलाधिकारी ने कहा कि लड़कियां-लड़कों से किसी मायने में कम नहीं हैं। इसलिए पुरानी विचारधारा को त्याग कर लड़कियों को भी शिक्षित बनायें। जिलाधिकारी ने चौपाल में गर्भवती महिलाओं के खून की कमी की जांच न होने व कुपोषण के बारे में कोई जानकारी न दे पाने पर जिलाधिकारी ने ए.एन.ए.एम के वेतन रोकने के साथ-साथ एक माह में अपनी कार्यशैली में सुधार लाने के निर्देश दिये तथा एक माह में सुधार न होने पर विभागीय कार्यवाही करने को कहा। बैठक में ग्रामीणों ने सेक्रेटरी द्वारा जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र जारी न करने की शिकायत की। जिस पर जिलाधिकारी ने सेक्रेटरी का वेतन सम्बन्धित अधिकारी को रोकने के निर्देश दिये। बैठक में जिलाधिकारी ने ग्रामीण महिलाओं से पूछा कि कुपोषण किये कहते हैं तो कोई भी महिला इसका जवाब न दे सकी। 

जिस पर जिलाधिकारी ने आशा कार्यकत्री को कड़ी फटकार लगाई। जिलाधिकारी ने लेखपाल को निर्देश दिये कि विधवा, विकलांग, वृद्धावस्था  पेंशन के लिए ऑनलाइन फार्म पात्र लाभार्थियों को अपने साथ ले जाकर जनसुविधा केन्द्र पर अपनी देख-रेख में फार्म-ऑनलाइन करायें। जिलाधिकरी ने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिये कि पशुओं का टीकाकरण कराते हुए पशुओं के बीमा सम्बन्धी कार्य को पूर्ण करायें। यहां पर ग्रामीणों ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत शिकायत की कि अपात्रों को आवास दिये जा रहे है। और पात्र इस लाभ से वंचित हैं जिस पर जिलाधिकारी ने कड़ा रूख अपनाते हुए कहा कि इस प्रक्रिया का दोबारा सर्वे कराकर जो व्यक्ति पात्र होगा उसी को आवास आवंटित किये जायेगें। 

उक्त बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्री संजीव सिंह ने कहा कि शौचालय निर्माण में अतिशीघ्रता लाई जाये। ताकि माँ-बहनों को बाहर न जाना पड़े और गांव को ओ.डी.एफ. की श्रेणी में लाया जा सके। उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति पात्र हैं वह अपना पैसा लगाकर शौचालय बनवा लें। अपात्र लोगों को ही इसका लाभ मिलेगा। ग्रामीणां ने बिजली की शिकायत की जिस पर मुख्य विकास अधिकारी संजीव सिंह ने अधिशाषी अभियन्ता विद्युत को निर्देशित करते हुए कहा कि तत्काल विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करें। चौपाल में जिला पंचायत राज अधिकारी धमेन्द्र कुमार, स्वच्छ भारत मिशन के डी.सी. रूपेश शर्मा, डी.डी.ओ. उग्रसेन यादव, आर.पी.रावत, बी.एस.ए. मनोज कुमार, सी.एम.ओ. आर.पी. रावत, जल निगम के जेई विनय पाल, एस.डी.एम. अजय कुमार तिवारी, थाना प्रभारी हरीश रावत आदि अधिकारी उपस्थित रहे।

Special News

Health News

Important News

International


Created By :- KT Vision