Latest News

सोमवार, 7 अगस्त 2017

कानपुर - अवैध सम्‍बन्‍धों के चलते हुआ था काकादेव का अग्निकाण्‍ड

कानपुर 07 अगस्‍त 2017. काकादेव में बीते दिनों हुआ अग्निकांड अवैध संबंध के कारण हुआ था। आग लगा कर तीन लोगों की जान लेने वाला युवक आज पुलिस के हत्थे चढ़ गया। पुलिस के अनुसार जलाये गये मकान में किराए पर रहने वाली युवती रिया उर्फ चांदनी से झगड़े के बाद आरोपी ने इस वारदात को अंजाम दिया था। पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह रिया को गिफ्ट में दी गई स्कूटी जलाने गया था। 


बताते चलें कि पुलिस ने आरोपी और उसे स्‍कूटी देने वाले छात्र को उठाया था। स्‍कूटी देने वाला छात्र भाजपा नेता का बेटा बताया जा रहा है। बताते चलें कि 19 जुलाई की रात काकादेव के तुलसी नगर स्थित एक मकान में संदिग्ध हालत में आग लग गई थी। हादसे में दम घुटने से ग्राउंड फ्लोर पर रह रही दादानगर की युवती रिया, कल्याणपुर के छात्र मनीष व एक अन्य छात्र की मौत हो गई थी। 2 दिन बाद मकान मालिक ने वहां लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाले तो उसमें स्‍कूटी से आया एक युवक आग लगाते नजर आया था। पुलिस ने आसपास के कैमरों की फुटेज निकलवाई लेकिन कुछ पता नहीं लगा। 

इस बीच पुलिस के हाथ कॉल डिटेल से अहम सुराग लगे। कॉल डिटेल के आधार पर पुलिस ने आरोपी की तलाश की और रविवार को उसे धरपकड़ा। आरोपी बकरमंडी, कर्नलगंज निवासी युवक सिद्धार्थ जायसवाल पुत्र राजेश जायसवाल रिया का दोस्त बताया जा रहा है। रिया उर्फ चांदनी से झगड़े के बाद उसने आगजनी की घटना को अंजाम दिया था। हालांकि पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह केवल रिया को गिफ्ट में दी गई स्कूटी जलाने गया था। अभियुक्त सिद्धार्थ ने पूछताछ में घटना को स्वीकार करते हुए बताया कि करीब 15 माह से उसके रिया से शारीरिक संबंध थे। सिद्धार्थ ने गिफ्ट में रिया को एक स्कूटी और मोबाइल फोन भी खरीद कर दिया था। कुछ दिनों बाद सिद्धार्थ को पता चला कि रिया शादीशुदा है और उसके बच्चे हैं। इस बात को लेकर उसकी और रिया की कहा सुनी हो गई। 

रिया अपने खर्चे के लिए सिद्धार्थ से अनाप शनाप पैसा मांगा करती थी। वो MMS, फोटोग्राफ एवं वीडियो दिखाकर सिद्धार्थ को ब्लैकमेल करती थी। इससे आजिज आ कर सिद्धार्थ ने 19 तारीख की रात अपने एक मित्र अंशुमान तिवारी से उसकी स्कूटी व हेलमेट मांगा और रात्र करीब ढाई बजे काकादेव क्षेत्र के एक पेट्रोल पंप से बोतल में पेट्रोल लेकर रिया की स्कूटी (यूपी78 ईके5063) पर पेट्रोल छिड़ककर माचिस से आग लगा दी। आग बेकाबू हो कर फैल गयी और तीन लोग मौत के मुंह में चले गये। सूत्रों के अनुसार पुलिस ने आरोपी और उसे स्‍कूटी देने वाले उसके मित्र दोनों को उठाया था। परन्‍तु स्‍कूटी देने वाला युवक किसी भाजपा नेता का बेटा था और रात भर पूछताछ करने के बाद पुलिस ने उसको छोड़ दिया था।

(आगजनी में प्रयुक्‍त स्‍कूटी एवं आरोपी युवक सिद्धार्थ)

Special News

Health News

Advertisement

Advertisement

Advertisement


Created By :- KT Vision