Latest News

गुरुवार, 27 जुलाई 2017

किरायेदार से मारपीट में बसपा नेता सुनील बाबू गिरफ्तार


कानपुर 27 जुलाई 2017 (सूरज वर्मा). थाना ग्वालटोली क्षेत्र के खलासी लाईन इलाके में रहने वाले बसपा नेता सुनील बाबू को मार-पीट के मामले में खलासी लाईन चौकी इंचार्ज जुगल किशोर पाल  ने बुधवार की रात 11 बजे उसके घर के पास से गिरफ्तार किया है। इस दबंग नेता के ऊपर पहले से ही 30 से 40 अापराधिक मामले थाने में दर्ज हैं तथा वह 2010 में हिस्ट्रीशीटर भी रहा है।

जानकारी के अनुसार थाना ग्वालटोली क्षेत्र के खलासी लाइन में रहने वाले पूर्व बसपा नगर अध्यक्ष सुनील बाबू को मार-पीट के प्रकरण में बुधवार की रात 11 बजे चौकी प्रभारी खलासी लाइन जुगल किशोर पाल द्वारा गिरफ्तार किया गया है। जुगल किशोर ने बताया कि सुनील बाबू के मकान में रहने वाले किरायेदारों पर वह मकान खाली करने का दबाव बना रहा था, जिसका पुराने किरायेदार बृजेश अस्थाना ने विरोध किया। बताया गया कि इस बात पर सुनील बाबू ने बृजेश पर सरिया लेकर हमला कर दिया और उसे बुरी तरह मारा जिससे बृजेश का पैर टूट गया, वहीं बृजेश की पत्नी कामिनी के साथ भी अभद्रता की। मामले की रिपोर्ट थाना ग्वालटोली में बीती 25 जुलाई को दर्ज की गयी थी। इस मामले में सुनील बाबू को चौकी इंचार्ज ने बुधवार की रात 11 बजे उसके घर के पास से दबिश देकर गिरफ्तार कर लिया।

इस सम्बन्ध में जब रात एक बजे थानाध्यक्ष संतोष कुमार से जानकारी ली गयी तो उन्होंने साफ मना कर दिया कि सुनील बाबू की गिरफ्तारी अभी नहीं हुई, सूत्रों की माने तो थाना प्रभारी सुनील बाबू को बचाना चाहते थे। बताते चलें कि सुनील बाबू बसपा के नेता रहे हैं और इलाके में इनकी छवि दबंग नेता के रूप में है। इनका काम लोगों में भय व्याप्त करना है। थाने के सिपाहियों का कहना है कि सुनील बाबू को पकडते ही उसे बचाने के लिए बसपा के बडे नेताओं और अधिवक्ताओं के फोन थाने में आने लगे थे। चौकी इंचार्ज जुगल किशोर ने खुलासा टीवी को बताया कि सुनील बाबू 2010 में हिस्ट्रीशीटर रहा था तथा उसने अपनी हिस्ट्रीशीट हाईकोर्ट द्वारा हटवा ली थी, उस पर धारा 323, 325, 452, 354 आदि धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया गया है।

Special News

Health News

International


Created By :- KT Vision