Latest News

शुक्रवार, 2 जून 2017

आदिवासियों की जमीन पर डीबी पावर की दबंगई, स्टे आर्डर के बावजूद जारी है निर्माण कार्य

छत्तीसगढ़ 01 जून 2017 (जावेद अख्तर). रायगढ़ के बहुचर्चित कुनकुनी जमीन मामले पर एसडीएम खरसिया ने 24 मई को स्टे आर्डर जारी किया था, बावजूद इसके उक्त आदिवासियों की भूमि पर जबरन निर्माण किया जा रहा है। इसे डीबी पॉवर की दबंगई कहें या गुंडागर्दी कि एसडीएम के आदेश को कम्‍पनी खुलेआम हवा में उड़ा रही है।


खरसिया के आदिवासी ग्राम कुनकुनी में 300 एकड़ आदिवासी जमीन घोटाले का मामला अभी शांत नहीं हुआ है और वहीं बाड़ा दरहा में स्थापित अखबार समूह दैनिक भास्कर के द्वारा उक्त 300 एकड़ विवादस्पद भूमि सहित अन्य आदिवासी किसानों की भूमि पर दबंगई दिखाते हुए जबरन रेल लाइन का पटाई एवं पुल निर्माण का कार्य किया जा रहा है। जबकि यह मामला आदिवासी की जमीनों पर जोर जबरदस्ती कर अधिग्रहण के चलते शुरू से ही विवादों में घिरा रहा। उक्त निर्माण कार्यं को डीबी पॉवर के द्वारा बिना किसानों की भूमि का रजिस्ट्री एवं भूअर्जन किये ही जबरन आदिवासियों की भूमि पर एग्रीमेंट की बात कह के निर्माण किया जा रहा है जबकि उक्त भूमि के न तो भूअर्जन किया गया है न ही उक्त भूमि का डायवर्सन ही किया गया है। डीबी पॉवर के द्वारा अवैध रूप से किये जा रहे निर्माण को रोक लगाने अनुविभागीय अधिकारी खरसिया के न्यायालय में शिकायत आपत्ति प्रस्तुत किया गया है। जिस पर खरसिया एसडीएम के द्वारा 24/5/17 को काम रोको आदेश जारी किया गया है। किंतु डीबी पॉवर के द्वारा उक्त मामले में कार्य रोकने के लिए तहसीलदार खरसिया सहित थाना प्रभारी खरसिया को भी प्रतिलिपि दिया गया है। किंतु आज तक काम नहीं रोका गया है।

काम करो बन्द नहीं तो करेंगे चक्काजाम - 
डीबी पॉवर कम्पनी के द्वारा किये जा रहे जबरन निर्माण कार्य से कुनकुनी व आसपास के आदिवासी किसानों में जबरदस्त गुस्सा देखा जा सकता है। किसानों ने अनुविभागीय अधिकारी को शिकायत पत्र एवं स्टे आर्डर संलग्न कर देते हुए तत्काल निर्माण कार्य पर रोक लगाने की अपील की है एवं अगर निर्माण कार्य पर तत्काल रोक नहीं लगाई गई तो ग्राम कुनकुनी के समस्त प्रभावित किसान उग्र आंदोलन करने के लिए विवश होंगे जिसकी जवाबदारी प्रशासन एवं डीबी पॉवर की होगी। एक बड़े नामी अखबार समूह दैनिक भास्कर की डीबी स्टार और डीबी पावर के नामों से कंपनी संचालित हो रही हैं और दैनिक अखबार की आड़ में इस तरह के अवैध जमीन अधिग्रहण किए गए।

मौखिक अनुबंध बता जबरन कर रहे मिट्टी पटाई का कार्य -
शंकर लाल राठिया ग्राम कुनकुनी उम्र लगभग 35 वर्ष 302 प्रकरण में सजा उपरांत बिलासपुर सेंट्रल जेल में निरुद्ध है डीबी पावर के गुर्गों के द्वारा उक्त भूमि पर शंकर राठिया से जेल में अनुबंध करने की मौखिक बात कह कर जबरन कृषि भूमि पर मिट्टी पटाई का कार्य किया जा रहा है। कंपनी अनुबंध पत्र दिखाने को तैयार नहीं है। जबकि उक्त भूमि पर अवैध निर्माण कार्य बंद करने के लिए राधाबाई राठिया द्वारा काम रोकने को कहा गया तो डीबी पॉवर के अधिकारियों द्वारा जेल में उक्त भूमि मालिक से अनुबंध होने का हवाला देते हुए काम में अड़गां लगाने का आरोप लगाते हुए पुलिस केस करने तक की धमकी चमकी देकर अनवरत रूप से अवैध निर्माण कार्य किया जा रहा है।

जबकि सर्वविदित है कि डीबी पावर कंपनी खरसिया एसडीएम के समक्ष कोई उपयुक्त दस्तावेज प्रस्तुत नहीं कर पाने के चलते ही एसडीएम द्वारा निर्माण कार्य पर स्टे लगाया है। वहीं कुनकुनी में आदिवासियों के जमीन घोटाले का मामला राज्य अनुसूचित जनजाति आयोग के अध्यक्ष नंद कुमार साय के द्वारा केंद्रीय आयोग के समक्ष पेश किया गया है जिसमें आयोग द्वारा आदेश दिया गया है कि आदिवासियों को उनकी जमीनें वापस किया जाए। 


Special News

Health News

Advertisement

Advertisement

Advertisement


Created By :- KT Vision