Latest News

गुरुवार, 13 अप्रैल 2017

हैलेट के डाक्‍टरों की लापरवाही से युवक की मौत

कानपुर 13 अप्रैल 2017. कानपुर के हैलट हॉस्पिटल के डॉक्टरों ने आज फिर दिखा दिया कि उनके लिए बीमार व्यक्ति मात्र एक मशीन के बराबर है, और उनमें दया या मानवता नाम की चीज नहीं है। ताजा घटनाक्रम के तहत आज गडरियन पुरवा निवासी एक युवक की डाक्‍टरों की लापरवाही के चलते मौत हो गयी।

जानकारी के अनुसार गडरियन पुरवा निवासी अर्पित गुप्ता पुत्र लालता प्रसाद गुप्ता कल अपनी तबियत ज्यादा खराब होने के कारण अपने साथ में काम करने वाले विनीत श्रीवास्तव के साथ बीती रात हैलेट पहुंचे तो वहाँ मौजूद महिला डॉक्टर ने करीब 11:30 बजे ये कह कर वापस भेज दिया कि अभी कोई दिक्कत की बात नहीं है अभी दर्द की दवाई ले लो और कल आकर फिर से दिखाना। इतना कह कर उस महिला डॉक्टर ने उन सभी को वापस भेज दिया। जब पुन: अर्पित के प्रियजन तबियत बिगड़ने पर उसको फिर से दिखाने हैलट पहुंचे तो वहाँ मौजूद स्टाफ ने एडमिट करने से मना कर दिया और ECG करा कर कहा कि सब नार्मल है।

डाक्‍टरों के सब नार्मल बताने के बस कुछ समय बीतते ही एक अन्‍य डाक्‍टर ने आ कर बताया कि अर्पित गुप्ता की आंतें फट गयी है और देखते ही देखते अर्पित गुप्ता की समय से इलाज न मिलने के कारण मृत्‍यु हो गयी। डाक्‍टरों की लापरवाही के चलते मरे युवक के परिवारजन वहीं इमरजेंसी में बॉडी रख कर इंसाफ मांगने लगे तो  डाक्‍टरों ने उलटा परिजनों के खिलाफ ही पुलिस में शिकायत कर दी। पीड़ित परिजन हैलेट प्राचार्य नवनीत कुमार के पास अपनी शिकायत ले कर गये पर उनकी कोई फरियाद नहीं सुनी गयी। सूत्रों के अनुसार ऐसा अक्सर होता है कि हैलेट में बीमार व्यक्ति को बहाना बना कर भगा दिया जाता है। जिससे आये दिन बिमारों की ईलाज न मिलने के चलते मौत हो जाती है.



सम्‍पर्क हेतु पीडित के परिजनों का नम्‍बर - 09519606653






Special News

Health News

International


Created By :- KT Vision