Latest News

शनिवार, 15 अप्रैल 2017

कानपुर में चौकी इंचार्ज ने कराया पत्रकार पर जानलेवा हमला

कानपुर 15 अप्रैल 2017. उत्तर प्रदेश में एक तरफ तो योगी सरकार पत्रकारों की सुरक्षा को लेकर कड़े नियम बना रही है वहीं दूसरी तरफ प्रदेश की पुलिस इन नियमों की खुलेआम धज्जियां उड़ा रही है। ताजा मामला कानपुर के दादानगर इलाके का है जहां पत्रकार और उसके कैमरामैन को बीच चौराहे पर स्‍थानीय चौकी इंचार्ज की शह पर चाकू मारा गया जिसमें कैमरामैन की मृत्‍यु हो गयी। पुलिस हमेशा की तरह मामले की जांच कर रही है.


स्‍थानीय पुलिस प्रशासन का रवैया अभी भी समाजवादी ही प्रतीत हो रहा है। पत्रकार और उसके कैमरामैन को सार्वजनिक रूप से चाकू मारा गया। दोनों को राहगीरों ने गंभीर अवस्था में हैलेट अस्‍पताल में भर्ती करवाया जहां ईलाज के दौरान कैमरामैन को डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। गुस्साए पत्रकार पोस्टमार्टम हाउस पहुंचे हंगामा किया परन्‍तु 3 दिन बीतने के बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं। अभी तक आधा दर्जन अपराधियों में से एक भी अपराधी नहीं पकड़ा गया है। पत्रकारों का कहना है कि अपराधियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करवाएं और कड़ी धाराओं में सजा दिलाएं ताकि किसी पत्रकार के साथ ऐसी घटना ना हो सके। साथ ही इस बात की निष्पक्ष जांच की जाए कि क्या पत्रकार को पुलिस के शह पर मारा गया है। 

आल इण्डियन रिपोर्टर्स एसोसिएशन ने मुख्‍यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित कर मांग की है कि मामले की जांच सीबीसीआईडी से करवाई जाये और पीडित पत्रकार के परिजनों को 25 लाख रूपया मुआवजे के रूप में दिया जाये।

Special News

Health News

Religion News

Business News

Advertisement


Created By :- KT Vision