Latest News

बुधवार, 1 फ़रवरी 2017

डीएम ने कार्यालय में अनुपस्थित मिले अधिशासी अभियन्ता का वेतन काटने के निर्देश दिये

शाहजहांपुर 31 जनवरी 2017 (अनिल मिश्रा). जिला मजिस्ट्रेट के निर्देश पर कार्यालयों के आकस्मिक निरीक्षण में अनुपस्थित पाये गये अधिशासी अभियन्ता (शारदा नहर खण्ड) का एक दिवस का वेतन रोकने के आदेश जारी हुये हैं तथा कार्यालय में न बैठने पर अधिशासी अभियन्ता नलकूप को चेतावनी जारी की गई है । जिला मजिस्ट्रेट ने कहा है कि बिना अनुमति के कोई अधिकारी मुख्यालय छोड़कर बाहर गया तो उसके विरूद्ध कड़ी वैधानिक कार्यवाही की जायेगी।


जानकारी के अनुसार जिला मजिस्ट्रेट/जिला निर्वाचन अधिकारी कर्ण सिंह चौहान ने आज अपर जिला मजिस्ट्रेट (वि./रा.)  सर्वेश कुमार को निर्देश दिये कि वे जिले के कार्यालयों में अधिकारियों व कर्मचारियों की उपस्थिति का निरीक्षण कर रिपोर्ट प्रस्तुत करें। अपर जिला मजिस्ट्रेट (वि./रा.) सर्वेश ने पूर्वान्ह 11.30 बजे अधिशासी अभियन्ता शारदा नहर खण्ड के कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। जिसमें पाया कि कार्यालय के कर्मचारी उपस्थित हैं किन्तु अधिशासी अभियन्ता रामकृष्ण वर्मा अनुपस्थित हैं। जानकारी करने पर पाया गया कि वे बाहर हैं। उन्होंने अधिशासी अभियन्ता नलकूप के कार्यालय का भी औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय कर्मचारी उपस्थित पाये गये किन्तु अधिशासी अभियन्ता शिवजीत सिंह कार्यालय में अनुपस्थित पाये गये। बताया गया कि वे प्रयोगशाला में हैं। प्रयोगशाला बगल में होने पर भी वे कार्यालय 10 से 12 बैठकर जनता की शिकायतें/समस्याओं को नहीं सुन रहे थे। 

अपर जिला मजिस्ट्रेट ने जिला कमाण्डेट होमगार्ड के कार्यालय का भी औचक निरीक्षण किया तो पाया कि कार्यालय में कमाण्डेट होमगार्ड सहित समस्त कर्मचारी उपस्थित हैं। उक्त प्राप्त रिपोर्ट के आधार पर जिला मजिस्ट्रेट श्री चौहान ने अधिशासी अभियन्ता शारदा नहर खण्ड का एक दिवस का वेतन रोकते हुये कारण बताओ नोटिस जारी किया है। उसी तरह अधिशासी अभियन्ता नलकूप द्वारा कार्यालय में न बैठकर दूसरी जगह जाने पर चेतावनी जारी की है। जिला मजिस्ट्रेट ने कहा है कि प्रतिदिन कार्यालयों का आकस्मिक निरीक्षण कराया जायेगा। यदि कोई अधिकारी/कर्मचारी अनुपस्थित पाया गया तो उसका वेतन रोकते हुये विभागीय कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कड़े निर्देश दिये कि सभी अधिकारी अपने-अपने कार्यालयों में 10 से 12 बजे तक अनिवार्य रूप से बैठकर जनसमस्याओं का निराकरण करते हुये विभागीय कार्यो का सम्पादन करेंगे। जिला मजिस्ट्रेट ने कहा है कि चल रहे विधानसभा सामान्य निर्वाचन-2017 की प्रक्रिया को दृष्टिगत रखते हुये बिना अनुमति के कोई अधिकारी मुख्यालय छोड़कर बाहर गया तो उसके विरूद्ध कड़ी वैधानिक कार्यवाही की जायेगी।

Special News

Health News

Advertisement

Advertisement

Advertisement


Created By :- KT Vision