Latest News

बुधवार, 22 फ़रवरी 2017

इंद्रप्रस्थ अपोलो हॉस्पिटल ने किया नि:शुल्‍क ओपीडी कैंप का आयोजन

कानपुर 22 फरवरी 2017. इंद्रप्रस्थ अपोलो हॉस्पिटल द्वारा आज नि:शुल्‍क ओपीडी कैंप का आयोजन किया गया, जिसका पत्रकारों ने भी भरपूर लाभ उठाया। निशुल्क कंसलटेशन और स्वास्थ्य संबन्धित चर्चा के लिए मौजूद चिकित्सकों ने लोगों को जीवनशैली से जुडी बीमारियों के बारे में बताया और नियमित जांच की सलाह दी।


चिकित्सकों ने बताया कि नियमित जांच बहुत जरूरी है ताकि बीमारी का पता शुरू में लग जाये और उसकी सही समय पर रोकथाम की जा सके। इस मौके पर डा0 मनीष सिंघल ने कहा कि कैंसर के रोगियों की संख्या बढ़ रही है। कैंसर का पता शुरू में ही चल जाए इसके लिए नियमित कैंसर स्क्रीनिंग की सिफारिश की जाती है। जो थोडे बहुत मामले बाद में पकड में आते हैं उनके लिए उपचार के कई नए मौके और बेहतर थ्योरी समाने आयी है, इससे जान बचने या बीमारी ठीक होने की संभावनाए बढी है। यहां तक कि अब अंतिम चरण के कैंसर भी ठीक हो जाते हैं। 

डा0 अक्षय कपूर ने बच्चों मे सेलियैक डिजीज की समस्या पर चर्चा की और कहा कि सैलियैक डिजीज गेहूं और उसके उत्पादों से स्थायी एलर्जी है। बच्चे अक्सर डायरिया के शिकार रहते हैं। नए जन्मे बच्‍चे को अगर दो सप्ताह बाद भी जायंडिस रहे तो उसकी जांच अवश्‍य कराना चाहिये। कतिपय बीमारी शुरू में हो तो दीर्घ अवधि में लीवर को क्षतिग्रस्त होने से बचाने के लिए सर्जरी की आवश्यकता होती है। इस अवसर पर डा0 मानसा कालरा, डा0 मृत्थु जोठी आदि ने मरीजों का परीक्षण कर परामर्श दिया।

Special News

Health News

International


Created By :- KT Vision