Latest News

शुक्रवार, 3 फ़रवरी 2017

एमएलसी चुनाव - 13 प्रत्याशियों के भविष्य का फैसला मतपेटियों में कैद

कानपुर 03 फरवरी 2017 (हरिओम गुप्‍ता).  खंड स्नातक एमएलसी चुनाव में 13 प्रत्याशियों के भविष्य का फैसला अाज मतपेटियों में कैद हो गया। अब मतगणना के बाद जीत-हार का पता चलेगा। स्नातक एमएलसी चुनाव के लिए कानपुर नगर, उन्नाव और कानपुर देहात जिले में 134711 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। शिक्षक एमएलसी चुनाव में कानपुर नगर जिले के मतदाताओं की संख्या ज्यादा है और यहीं से हार-जीत का फैसला होता है। 



शुक्रवार की सुबह आठ बजे से मतदान शुरू हुआ जो शाम चार बजे तक चला, इसके साथ ही बूथों पर पोलिंग पार्टियों के साथ ही सुरक्षाकर्मी और माइक्रो ऑब्जर्वर भी डटे रहे। खंड शिक्षक एवं खंड स्नातक एमएलसी चुनाव में तीनों जिलों को मिलाकर एमएलसी चुनाव के लिए 138 केंद्र और 250 बूथों पर मतदान हुआ। नगर में मतदाताओं की संख्या ज्यादा होने के कारण हार-जीत का फैसला नगर के ही मतदाताओं का वोट करता है। प्रत्याशियों में भाजपा के प्रत्याशी एवं निवर्तमान एमएलसी अरूण पाठक, निर्दलीय अरूण कुमार पाठक, आशीष कुमार पांडेय, जय प्रकाश साहू, तारिक रहमान, दीप कुमार शुक्ला, नकी हैदर, प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, डा0 महादेव, मानवेंद्र स्वरूप, माया कौशल, रामभरत, विवेक कटियार के भाग्य का फैसला मतदाताओं ने अपने मत देकर पेटियों में बंद कर दिया है। मतदान सम्पन्न होने के उपरान्त सभी बैलेट बॉक्सों को कडी सुरक्षा में पॉलीटेक्निक भेजा गया, जहां आगामी 6 फरवरी को मतगणना की जायेगी। एमएलसी प्रत्याशी दौड में भाजपा के अरूण पाठक और मानवेन्द्र के बीच टक्कर देखने को मिली वहीं भाजपा के नेताओं का यह है कि जीत अरूण पाठक की होगी।

मतदान केंद्र वाले स्कूल रहे बंद -
स्नातक एमएलसी चुनाव के लिए जिन स्कूलों को मतदान केंद्र बनाया गया, उन स्कूलों की छुटटी रही। वहीं  संस्थान, स्कूल, कॉलेज में कार्यरत कर्मियों को मतदान को देखते हुए छुट्टी दी गयी। इसके साथ ही चुनाव में किसी प्रकार की गडबडी न हो इसके लिए प्रशासन ने सख्त व्यवस्था कर रखी थी। मतदान के कारण शुक्रवार को सुबह से शाम चार बजे तक शहर में शराब की दुकानें भी बंद रही।

संवेदनशील बूथों में रहा सख्त पहरा -
खंड स्नातक और शिक्षक एलएलसी चुनाव में सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किये गये। तीनों जिलों में 73 सेक्टर और 35 जोनल मजिस्ट्रेट तैनात रहे जो हर पल पोलिंग सेंटरों पर होने वाली गतिविधियों का जायजा लेते रहे। वहीं एडीएम सिटी एवं एडीम वित्त भी पोलिंग बूथों पर पहुंचे और व्यवस्थाओं पर नजर रखी। बूथों के बाहर प्रत्याशियों द्वारा कैंप लगाये गये थे। फर्जी मतदान न पड सके इस पर विशेष निगाह रखी गयी और मतदाता से जानकारी कर वोट डालने दिया गया।


Special News

Health News

Important News

International


Created By :- KT Vision