Latest News

रविवार, 1 जनवरी 2017

शाहजहांपुर - बीए के छात्र का दिन दहाड़े हुआ अपहरण, मांगी 30 लाख की फिरौती

शाहजहांपुर 01 जनवरी 2017. आरसी मिशन थाना क्षेत्र में कल दिन दहाड़े बीए के छात्र का अपहरण हो गया। अपहरणकर्ताओं ने फिरौती में 30 लाख रूपये की मांग की है। थाना आरसी मिशन क्षेत्र के ग्राम दिलावरपुर भटकल निवासी प्रदीप कुमार ने पुलिस को दिए प्रार्थना पत्र में बताया कि उसका बेटा राजबाबू जो सेहरामऊ दक्षिणी के ग्राम कहेलिया स्थित डिग्री कालेज में बीए का छात्र था, उसका अपहरण हो गया है।

राजबाबू  शुक्रवार को दोपहर लगभग 11 बजे साईकिल मिश्रीपुर रामबाग स्थित बुद्धन की चक्की से गेहूँ पिसाने निकला था। परिजनों ने बताया कि जब देर शाम वह घर वापस नहीं लौटा तो उन्होंने चक्की पर जाकर पता किया तो चक्की पर साईकिल खड़ी हुई थी। चक्की स्वामी ने बताया कि दोपहर लगभग 12 बजे गेहूं लेकर वो आया था और साईकिल खड़ी करके 10 मिनट में वापस आने को बोलकर चला गया। परिजनों ने काफी तलाश किया लेकिन कहीं पता न चलने से उन्होंने बीती रात थाने पर गुमशुदगी की तहरीर दे दी थी। लेकिन बीती रात लगभग 10:30 बजे राजबाबू के पिता के फोन पर 7518798115 से फोन आया और गाली देते हुए उसने कहा कि तेरा बेटा मेरे कब्जे में है और 30 लाख रुपये की व्यवस्था कर ले, जल्द ही जगह बता दी जायेगी जहां पैसा पहुँचाना है। मामले की जांच पड़ताल में पुलिस जुट गई है।

शक पर पुलिस ने एक को उठाया -
पुनीत कुमार नाम के युवक को पुलिस ने पुछताछ में पकड़ लिया है। पकड़ा गया युवक थाना आरसी मिशन के ग्राम तावरगंज का निवासी है। तथा अपहरण हुए  युवक के परिजनों ने बताया कि उसके लड़के से पुनीत की मित्रता है। पकड़े गए युवक ने बताया कि उसके नम्बर पर राजबाबू का नम्बर किसी ने डायवर्ट कर दिया है। जो पिछले 2 दिन से डायवर्ट है। जिसकी वजह से परिजनों के फोन उसके नम्बर पर आने लगे और अपहरण हुए युवक के परिजन उस पर शक कर रहे हैं। उसने बताया कि इस मामले में उसका कोई मतलब नहीं है। 

* जिस युवक का अपहरण हुआ उसके नम्बर का एक दिन पहले उसके मित्र के नम्बर पर काल डायवर्ट होना शक की ओर इशारा करता है। जल्द ही मामले का पर्दाफाश हो जाएगा। किसी निर्दोष पर कार्यवाही नही की जायेगी :- हरीश राजपूत (प्रभारी निरीक्षक - थाना आरसी मिशन )

Special News

Health News

Advertisement


Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision