Latest News

रविवार, 25 दिसंबर 2016

गन्ना किसान प्रशिक्षण संस्थान लोधीपुर ने धूमधाम से मनाया किसान दिवस

शाहजहाँपुर 25 दिसम्‍बर 2016 (अनिल मिश्रा). गन्ना किसान प्रशिक्षण संस्थान लोधीपुर में बीते दिनों भूतपूर्व प्रधानमंत्री भारत सरकार स्व. चौधरी चरण सिंह के जन्म दिवस को किसान दिवस के रूप में  मनाया गया। मुख्य अतिथि जिलाधिकारी रामगणेश ने आयोजित विभिन्न विभागों की प्रदर्शनी का फीता काटकर उद्घाटन किया। जिलाधिकारी ने चौधरी चरण सिंह की मूर्ति पर माल्यार्पण कर एवं दीप प्रज्जवलित करते हुये कार्यक्रम की शुरूवात की ।

इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कृषि, उद्यान, गन्ना, पशुपालन एवं मत्स्य पालन में सर्वश्रेष्ठ उत्पादन करने वाले प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान रखने वाले तथा प्रगतिशील 90 किसानों को माल्यार्पण कर शाल उढ़ाते हुये प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। जिलाधिकारी ने किसानों से कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा चालू की गई समाजवादी किसान एवं सर्वहित बीमा योजना का लाभ उठाये। जिसके तहत राज्य सरकार द्वारा राजस्व अभिलेखों में दर्ज समस्त खातेदार, प्रदेश के ऐसे निवासी जिनकी पारिवारिक आय रुपये 75 हजार प्रतिवर्ष से कम हैं, चाहे वह किसी भी व्यवसाय/कार्य में लिप्त हो, बी.पी.एल. परिवार तथा समाजवादी पेंशन पाने वाले परिवारों के मुखिया, तथा १८ से ७० वर्ष के मध्य के ऐसे व्यक्ति जो परिवार का मुखिया/रोटी अर्जक है, के दुर्घटनावश मृत्यु/विकलांग  होने की दशा में हित लाभ समाजवादी किसान एवं सर्वहित बीमायोजना से आच्छादित होगें, और उनकी मृत्यु पर उनके परिवार को ५ लाख रुपये दिये जायेगें। 

जिलाधिकारी ने कहा कि किसान साल भर दिन रात मेहनत करते है किन्तु यदि कोई आपदा आ गई तो उसकी पूरी मेहनत बर्बाद हो जाती है। इसलिये किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अन्‍तर्गत आच्छादित किया गया है। कृषक भाई उसका लाभ अवश्य उठायें। उन्होंने कहा कि किसानों को शासन द्वारा बीज खाद उपकरण आदि का लाभ सीधे उनके खातों के माध्यम से दिया जा रहा है। सरकार ने सिंचाई मुफ्त कर दी है। उन्होंने कहा कि किसान हमारी अर्थ व्यवस्था की रीढ़ है। वह समाज को खाद्यान्न उपलब्ध कराते हैं। इसलिये वह हम सब के लिये सम्मानीय है। उक्त अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी टी.के शिबू ने किसानों को सम्मानित करते हुये कहा कि आज प्रथ्वी के पानी की सतह नीचे जा रही है। इसलिये किसानों को जागृत होना पडेगा कि जल सरंक्षण आवश्यक है। 

किसान भाई ज्यादा से ज्यादा वैज्ञानिक विधियों को अपनाकर जल सरंक्षण एवं जमीन की उर्वरा शक्ति बढ़ाकार उपज बढ़ायें। उन्होंने इस बात पर विशेष बल दिया कि जिले में साठा धान की बुवाई किसान भाई न करें। उन्होंने कहा कि जो भी किसान साठा धान बुवाई करेंगे, उनको सम्बन्धित उपजिलाधिकारी के माध्यम से कार्यवाही हेतु निर्देशित किया जायेगा। उन्होंने किसान भाईयों से अपील की कि वह साठा धान बोने वाले किसानों को हतोत्साहित करें। उक्त अवसर पर जिला कृषि अधिकारी धीरेन्द्र चैधरी ने जिलाधिकारी सहित समस्त अधिकारियों, किसानो का स्वागत और अभिनन्दन किया। उन्होंने कृषि विभाग संचालित योजनाओं के विषय में विस्तृत जानकारी दी। किसान श्री फकीरे लाल, आदित्य आर्य, आदि किसानों ने भी अपने विचार व्यक्त किये। उक्त अवसर पर डा. पी.के. कपिल, एस.डी.ओ राकेश सिंह, नलकूप, सिंचाई, उद्यान, गन्ना, पशु पालन, मत्स्य आदि विभागों के अधिकारी, किसान आदि उपस्थित रहें। विभागों द्वारा लगाये गये स्टाल/प्रदर्शनी का अवलोकन करते हुये जिलाधिकारी ने जानकारी प्राप्त की।

Special News

Health News

International


Created By :- KT Vision