Latest News

सोमवार, 26 दिसंबर 2016

खुलासा टीवी की खबर का हुआ असर, डीएम ने किया जलमग्‍न इलाकों का निरीक्षण

शाहजहाँपुर 25 दिसम्बर (अनिल मिश्रा). रोजा माईनर की नहर कटने पर सात गांव के 137 किसानों की 34 हेक्टेयर फसल डूब जाने की ख्‍ाबर खुलासा टीवी पर प्रसारित होने पर जिलाधिकारी रामगणेश ने आज मामले का संज्ञान लेते हुये मौके पर जाकर हालात का निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि इस मामले की मजिस्ट्रेट द्वारा जांच कराई जायेगी और जिसका भी उत्तरदायित्व निर्धारित होगा उससे नष्ट फसल की क्षतिपूर्ति कराई जायेगी।


उक्त निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने पाया कि जलालपुर, सुजातपुर, नागरपाल, उटहा, बादशाहनगर, देवकली, गुंवारी व कुछ कनेंग के कृषकों की फसल नहर की पटरी कटने से डूब गई। मौके पर जिलाधिकारी ने जानकारी की तो कुछ किसानों ने बताया कि रात को नहर की पटरी कनेंग के कुछ लोगों ने सिंचाई के उद्देश्य से काटी थी। जिसका परिणाम यह हुआ कि पानी तेज गति से बहता हुआ कई गांव के किसानों की रवी की बोई हुई फसल के खेतों में भर गया। जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि नहर कुछ लोगों द्वारा काटी गई है या नहर विभाग की लापरवाही से कटी है इस सम्बन्ध में मजिस्ट्रेट द्वारा जांच कराई जायेगी और जिसका भी उत्तरदायित्व निर्धारित होगा उससे नष्ट फसल की क्षति की पूर्ति कराई जायेगी। कोई बच के नहीं जा पायेगा।

जिलाधिकारी ने कहा कि नहर कटने के एक सप्ताह तक नहर विभाग के अधिकारी/कर्मचारी सोते रहे कोई कार्यवाही नहीं की गई। उन्होंने उपस्थित उपजिलाधिकारी सदर रामजी मिश्रा को निर्देश दिये कि वह किसानों की ग्रामवार हुई फसल की क्षति का आंकलन करा लें। मौके पर उपस्थित ग्रामवासियों ने बताया कि ग्राम देवकली के पास नाला न होने पर जल भराव की अधिक समस्या हो जाती है। इस पर जिलाधिकारी उपस्थित गांव के विजयपाल, तेजराज, ईश्वरी, राधाकृष्ण आदि से कहा कि वह नाला निकलवाने के लिये अपनी जमीन दे दे जितनी जमीन नाला निकलने के लिये उनसे ली जायेगी उतनी जमीन उन्हें दूसरी जगह दे दी जायेगी। जिलाधिकारी के सामने उक्त किसानों ने सहयोग देने की सहमति दे दी। इसपर जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी सदर से कहा कि वह राजस्व की धारा 161 के आधार पर भूमि को चेंज करने की कार्यवाही कर लें।

जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारी ददरौल को निर्देश दिये कि देवकली गांव से निकलने वाले नाले को मनरेगा से खुदाई कराकर किसानों को होने वाली फसल क्षति से बचाने की कार्यवाही करें। ज्ञातव्य हो कि जिलाधिकारी रामगणेश ने अपने आदेश दिनांक 25 नवम्बर 2016 के द्वारा जिले के विद्युत नहर, नलकूप, लिफ्ट कैनाल, कृषि आदि अधिकारियों को अपने-अपने विभागों के कार्यो को सुचारू रूप से करते रहने के निर्देश दिये थे। अपने निर्देश में जिलाधिकारी ने यह भी कहा है कि जिन विभागों की लापरवाही से यदि किसानों की फसल का नुकसान होगा तो उस विभाग का उत्तरदायित्व निर्धारित करते हुये क्षति पूर्ति सम्बन्धित विभाग के अधिकारी/कर्मचारी के  वेतन से अनुपातिक कटौती करते हुये भूःराजस्व के बकाये की भांति वसूल कराते हुये सम्बन्धित कृषक को भुगतान कराने की कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। उक्त अवसर पर अधिशासी अभियन्ता राष्ट्रीय जल प्रबन्धन सहित ग्रामवासी उपस्थित रहे।

Special News

Health News

Important News

International


Created By :- KT Vision