Latest News

शुक्रवार, 16 दिसंबर 2016

बेशक अंकल-चाचा साथ न हों, लेकिन जनता मेरे साथ है :- अखिलेश यादव

लखनऊ, 16 दिसंबर 2016 (IMNB). मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने साफ कहा है कि चाचा-अंकल साथ न हो, पर जनता उनके साथ है। हालांकि, उन्होंने किसी का नाम नहीं लिया। चाचा से उनका इशारा शिवपाल और अंकल से अमर सिंह माना जाता है। उन्होंने लखनऊ में गुरुवार को आयोजित एक कार्यक्रम में यह बातें कहीं।

सीएम ने कहा कि पूरा यूपी अब मेरा परिवार है। परिवार में सब ठीक है, 80 फीसदी उनके और नेताजी के समर्थक हैं। उनका संकेत साफ था कि संख्या बल उनके साथ है। सीएम ने अपनी सरकार के कामों की जमकर तारीफ की। कहा, विकास कार्य हो या मेधावियों को लैपटॉप देना। समाजवादी पेंशन देना हो या आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे, इतना काम किसी सरकार में नहीं हुआ।

अखिलेश ने कांग्रेस के साथ गठबंधन की खुलकर वकालत की। कहा, उत्तर प्रदेश में भाजपा को रोकने के लिए सपा समान विचाराधारा वाली पार्टी से गठबंधन को तैयार है, मगर इस पर अंतिम फैसला नेता जी मुलायम सिंह यादव ही करेंगे। गठबंधन पर मायावती के आरोपों को साफ करते हुए कहा कि वैसे तो सपा बहुमत की सरकार बनाने जा रही है, लेकिन गठबंधन होने पर 300 से अधिक सीटें मिलेंगी।
नोटबंदी ने खत्म कर दिया रोजगार - 
नोटबंदी पर सवालिया निशान लगाते हुए सीएम ने कहा कि कोई पैसा काला-सफेद नहीं होता, उस पैसे से गलत तरीके से जो लेन-देन किया जाता है वो गलत है और उस पर लगाम लगाना जरूरी है। जो जनता को दुख देता है उससे हिसाब-किताब होता है। केंद्र ने नोटबंदी से पहले कोई तैयारी नहीं की। नोटबंदी से जनता को बहुत तकलीफ हुई है, इससे रोजगार खत्म हुआ है। नोटबंदी से समाजवादी को फायदा हुआ है। नोट नहीं होंगे तो सब साइकिल से चलेंगे...?  हाथीवाले भी साइकिल से चलेंगे?

Special News

Health News

Religion News

Business News

Advertisement


Created By :- KT Vision