Latest News

सोमवार, 7 नवंबर 2016

प्रदर्शन कर रहे युवा छजकां कार्यकर्ताओं को डोंगरगढ़ पुलिस ने जमकर पीटा

छत्तीसगढ़/राजनांदगांव 07 नवंबर 2016 (छत्तीसगढ़ ब्यूरो). भाजपा के घोषणा पत्र को झूठा व टाईमपास बताते हुये प्रदर्शन कर रहे युवा छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (छजकां) डोंगरगढ़ के कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया है कि उनके साथ पुलिस ने गाली गलौज करते हुए मारपीट की एवं घोर अमानवीय व्‍यवहार किया।

छजकां के सदस्य ने कहा कि राजनैतिक दबाव में आकर डोंगरगढ़ टीआई अमित बेरिया व अन्य पुलिस टीम द्वारा राजनांदगांव युवा छजकां जिलाध्यक्ष नवीन अग्रवाल सहित दस कार्यकर्ताओं को जबरन सड़क पर गिराकर बुरी तरह पिटाई की गई। छजकां सदस्य ने आगे कहा कि टीआई बेरिया ने आसपास खड़े आमजनों को धमकी देते हुए फोटो व वीडियो न बनाने की चेतावनी दी। उसके बाद टीआई के द्वारा उन्हें व साथियों को थाने ले जाकर गाली गलौज करते हुए औकात दिखाने की बात करते हुए मारा पीटा गया। जो पुर्ण रूप से रमन सिंह के प्रशासनिक गुंडाराज़ रवैय्ये को प्रदर्शित करता है।

- सत्ता के दबाव में आकर पुलिस द्वारा एेसा अमानवीय बर्ताव युवाओं के साथ करना ही पुलिस और रमन सरकार के गुंडाराज का सबूत है। - अजीत जोगी

- छजकां के दस युवा कार्यकर्ताओं की जेल से रिहाई के बाद, रमन सरकार के निर्देश पर पुलिस द्वारा की गई दादागिरी व मारपीट के विरोध में हल्ला बोल किया जायेगा। तस्वीरों से ही पुलिस की ज्यादती की सारी हकीकत समझ आ जायेगी। - मेहुल मारू, छजकां, राजनांदगांव

Special News

Health News

Advertisement


Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision