Latest News

रविवार, 16 अक्तूबर 2016

सम्भल - कुत्तों के हमले से हुयी काले हिरन की मौत

सम्भल 15 अक्टूबर (सुनील कुमार). हयातनगर थाना क्षेत्र में जंगली कुत्तों के हमले से एक काले हिरन की मौत हो गयी। पशु चिकित्सक ने पोस्टमार्टम के बाद गहरे जख्म व अधिक खून बहने की वजह से हिरन की मौत होने की पुष्टि की है। इसके बाद हिरन वन विभाग के कर्मियों ने दफना दिया।
मालूम हो कि गांव रूदायन में जंगली कुत्तों ने हमला कर वहां पर विचरण करने वाले एक काले हिरन को घायल कर दिया था। जंगली कुत्तों के झुंड व उनके शोर को सुनकर आसपास खेतों में काम कर रहे ग्रामीण दौड़े तो उन्होंने देखा कि कुत्तों का झुंड एक काले हिरन को घेरे पड़ा है। इस पर उन्होंने लाठी डंडे मार कर जंगली कुत्तों के झुंड को वहां से भगाया, लेकिन तब तक काले हिरन की मौत हो चुकी थी। ग्रामीणों ने वन विभाग के अधिकारियों को इस मामले की जानकारी दी। इस पर अधिकारी गांव पहुंचे और काले हिरन के शव को कब्जे में ले लिया।

शुक्रवार को विकास खंड पंवासा में स्थित वन विभाग की नर्सरी में मृत काले हिरन के शव का पोस्टमार्टम पंवासा पशु चिकित्सा अधिकारी आलोक कुमार सहरावत ने किया। चिकित्सक ने बताया कि पोस्टमार्टम के दौरान काले हिरन के शव पर जंगली जानवरों के दांत व पंजों के निशान थे। वहीं उसके अंदर का मांस नहीं था। जिससे हड्डियां दिखाई दे रही थी। हिरन के पिछले हिस्से की हालत सबसे ज्यादा खराब थी। पोस्टमार्टम के दौरान काला हिरन शिकारियों द्वारा मारा हुआ प्रतीत नहीं हो रहा था। क्योंकि उसके शरीर पर किसी भी प्रकार के गोली के निशान नहीं थे। उसका अगला हिस्सा सही था। यदि शिकारी मारता तो अगले हिस्से का मांस भी गायब होता। इससे प्रतीत होता है कि गहरे जख्म व अधिक खून बहने की वजह से हिरन की मौत हुई है। पोस्टमार्टम के बाद हिरन के शव को नर्सरी में ही दफना दिया गया।

Special News

Health News

Advertisement


Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision