Latest News

शुक्रवार, 9 सितंबर 2016

शाहजहांपुर - डीएम ने किया विकास भवन का निरीक्षण, कर्मचारियों को दी कडी चेतावनी

शाहजहांपुर 09 सितम्‍बर 2016. डीएम राम गणेश ने आज कलेक्ट्रेट एवं विकास भवन के विभागों, पटलों का आकस्मिक निरीक्षण किया। कार्यालयों में मिली गन्दगी पर संबंधित अधिकारियों कर्मचारियों को कडी चेतावनी देते हुए तत्काल साफ सफाई करने के निर्देश दिये। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि सभी अधिकारी कर्मचारी समय से अपने कार्यालय उपस्थित होकर जनहित के कार्य करें।

जिलाधिकारी ने कहा कि किसी भी पटल पर कोई कार्य लंबित नहीं रहना चाहिए। जनता के लोग जिस योजना की पात्रता रखते हैं उन्हें शीघ्र लाभान्वित कराया जाये, उनके आवेदन पत्र लम्बित न रखे जायें। निरीक्षण के दौरान डीएम ने अल्प संख्यक कल्याण विभाग के कार्यालय का निरीक्षण करते हुए पाया कि कार्यालय में कोई अधिकारी अथवा कर्मचारी मौजूद नहीं है। उन्होंने निर्देश दिये कि कार्यालय की सफाई करें। कलेक्ट्रेट सभाकक्ष के सामने खाली पडी जमीन पर नाजिर को निर्देश दिये कि वहां वृक्षारोपण करायें। कलेक्ट्रेट में लगे पुराने होर्डिंग को संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि उसे अपडेट करें।

विकास भवन का निरीक्षण करते हुए डीएम ने निर्देश दिये कि विकास भवन पोर्टिकों के सामने पेंट करायें और उसे साफ सुथरा बनायें। उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी टी.के शिबू से कहा कि वे अभियान चलाकर विकास भवन को साफ सुथरा करायें। कृषि रक्षा कार्यालय का निरीक्षण करते हुए जिलाधिकारी ने पेस्टीसाइड के दिये जा रहे लाइसेन्स के विषय में जानकारी की। इस पर संबंधित पटल के कर्मचारी द्वारा सही जानकारी न देने पर मुख्य विकास अधिकारी से कहा कि इसकी जांच कर लें। उन्होंने जिला कृषि अधिकारी कार्यालय, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी कार्यालय का निरीक्षण करते हुए निर्देश दिये कि पूरे कार्यालय को स्वच्छ बनायें और सभी अभिलेखों को अपडेट रखें। जिला समाज कल्याण अधिकारी कार्यालय का निरीक्षण करते हुए जिलाधिकारी ने पाया कि एक महिला सदावती पत्नी महेश रफियाबाद कलान का राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजनान्तर्गत 5 माह से आवेदन पत्र लम्बित रखा गया है। उन्होंने कडे निर्देश दिये कि ऐसे जितने मामले है उन सभी का शीघ्र निस्तारण करें।

जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि गरीबों के हित से संचालित योजनाओं का समय से क्रियान्वयन कर उन्हें लाभान्वित किया जाये। डीएम ने कहा कि वे कार्यालयों का आकस्मिक निरीक्षण करेगें। कलेक्ट्रेट में नगर मजिस्ट्रेट न्यायालय का निरीक्षण करते हुए डीएम ने अहलमद फौजदारी के पटल का निरीक्षण करते हुए पाया कि पटल सहायक ने पत्रावली अद्यतन नहीं रखा है। इस पर नाराजगी व्यक्त करते हुए पटल सहायक राम नरेश वर्मा को तहसील जलालाबाद स्थानान्तरण करने एवं उनके कार्यो की जांच करने के लिए अपर जिलाधिकारी प्रशासन को निर्देश दिये। एसडीएम सदर न्यायालय को साफ करने व पूर्ति निरीक्षक को तहसील में बैठने का निर्देश दिया।

Special News

Health News

International


Created By :- KT Vision