Latest News

सोमवार, 1 अगस्त 2016

प्रधानाचार्य ने ली दो हजार घूस, फिर भी छात्र को नहीं दी सनद

अल्हागंज 31 जुलाई 2016. कभी विद्यालय को शिक्षा का मंदिर कहा जाता था लेकिन अब यहाँ शिक्षा के व्यापार के केन्द्र बन गये हैं, जहाँ छात्र का आर्थिक उत्पीड़न किया जाता है। यहाँ तक की उनके भविष्य से खिलवाड़ करके पूरा जीवन ही बर्वाद कर दिया जाता है। ऐसा ही एक मामला अल्हागंज के छात्र अमित बाजपेयी का है।

जानकारी के अनुसार अमित बाजपेई ने वर्ष 2013 में हाईस्कूल की परीक्षा हरिओम शिक्षा निकेतन इण्टर कालेज हसनपुर मानपुर हरदोई से उत्तीर्ण की थी। जिसके अंकपत्र में कुछ विभागीय त्रुटी थी जिसे ठीक कराने के लिए तत्कालीन प्रधानाचार्य ने अमित बाजपेई से दो हजार रुपये लिऐ थे। इसके बाद जब अमित बाजपेई ने प्राचार्य से सनद माँगी तो उन्होंने उसके लिऐ चार हजार रुपये अतिरिक्‍त माँगे। जब अमित ने माँग पूरी करने में असमर्थता जाहिर की तो प्रधानाचार्य ने उसे धमकी देते हुये भगा दिया। जिसके चलते अमित की आगे की पढाई  बाधित हो गई और उसने मामले की शिकायत शिक्षा विभाग तथा जिलाधिकारी हरदोई से की है। अमित बाजपेई ने खुलासा टीवी को बताया कि अगर सनद न मिलने से उसका जीवन खराब होता है तो इसके जिम्मेदार उक्‍त प्रधानाचार्य, तमाम शिक्षा के अधिकारी व जिला अधिकारी होगे।

Special News

Health News

Advertisement


Created By :- KT Vision