Latest News

मंगलवार, 3 मई 2016

सांसदों के वेतन-भत्ते बढ़ाने पर पीएम मोदी ने उठाया सवाल

नई दिल्ली 03 मई 2016 (IMNB). सांसदों के वेतन में 100 फीसदी वृद्धि की सिफारिश पर प्रधानमंत्री कार्यालय की अनुमति का इंतजार हो सकता है लेकिन सरकारी सूत्रों के अनुसार, पीएम नरेंद्र मोदी सांसदों के और स्वयं अपने वेतन-भत्तों के बढ़ाने का निर्णय लेने के पक्ष में नहीं हैं। भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता वाली समिति ने पेंशन में 75 फीसदी की वृद्धि करने की सिफारिश की है। विदित हो कि 6 साल पहले सांसदों का वेतन-भत्ता बढ़ा था।

सूत्रों ने कहा कि वर्तमान सिफारिश पर पीएम मोदी के मत के बारे में जानकारी नहीं है लेकिन पीएम सांसदों के वेतन बढ़ोत्तरी के मामले में अन्य सार्वजनिक पदों पर रहने वाले लोगों (राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति या कैबिनेट सचिव) के वेतन-भत्ते में बढ़ोत्तरी के लिए अपनाए जाने वाली व्यवस्था का समर्थन करते हैं। संसदीय समिति की सिफारिश के अनुसार, सांसदों का वेतन 50 हजार से बढ़ाकर एक लाख और संसदीय क्षेत्र से संबंधित भत्ता 45 हजार से बढ़ाकर 90 हजार होना चाहिए। सांसद का एक लाख रुपये वेतन होता है तो सरकार को प्रतिवर्ष इसके लिए 250 करोड़ देने होंगे।  संसदीय समिति की सिफारिश पर वित्त मंत्री अरूण जेटली की मुहर लग गई है और उसके बाद उसे गुरुवार शाम पीएमओ भेज दिया गया।  

उस सिफारिश में फर्नीचर के लिए भत्ता डेढ़ लाख रुपये करने की सलाह दी गई है। इसके अलावा सभी सांसदों को 1700 रुपये प्रति माह बीएसएनएल का ब्रॉडबैंड कनेक्शन देने की बात कही गई है। भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता वाली समिति ने पेंशन में 75 फीसदी की वृद्धि करने की सिफारिश की है। विदित हो कि 6 साल पहले सांसदों का वेतन-भत्ता बढ़ाया गया था।

Special News

Health News

Advertisement

Important News


Created By :- KT Vision